होम आइसोलेशन वाले मरीज ऑनलाइन भेजेंगे फॉर्म, मिलेगी एक्सपर्ट की राय

विभाग की तरफ से ये कहा गया है कि पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर, मरीज में कोई लक्षण नही हैं तो उनके पास होम आइसोलेशन विकल्प है। चिकित्सक की देखरेख में होम आइसोलेशन में रहकर इलाज कराएं या निजी अस्पताल में या कोविड केयर सेंटर में भर्ती हो जाएं। पॉजिटिव आने पर कोरोना कंट्रोल रूम से फोन आएगा।

By: Karunakant Chaubey

Published: 15 Sep 2020, 08:24 PM IST

रायपुर. रायपुर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में हर दिन 700 से 800 का इजाफा हो रहा है। इनमें बिना लक्षण वालों की संख्या अधिक है। ऐसे मरीजों को होम आइसोलेशन के विकल्प ने स्वास्थ्य विभाग को बड़ी राहत दी है।क्योंकि हर एक बढ़तेमरीज के साथ बेड का संकट गहराता जा रहा था और अभी भी बना है।

उधर, विभाग की तरफ से ये कहा गया है कि पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर, मरीज में कोई लक्षण नही हैं तो उनके पास होम आइसोलेशन विकल्प है। चिकित्सक की देखरेख में होम आइसोलेशन में रहकर इलाज कराएं या निजी अस्पताल में या कोविड केयर सेंटर में भर्ती हो जाएं। पॉजिटिव आने पर कोरोना कंट्रोल रूम से फोन आएगा।

होम आइसोलेशन का लिंक भी भेजा जाएगा जिसमें कुछ सरल जानकारी देनी है। विभाग ने अपील की है कि सैंपल देने वाले मोबाइल हरगिज बंद न करे। रायपुर जिला प्रशासन का कंटोल रूम 24 घंटे सातों दिन काम कर रहा है। जहां से होम आइसोलेशन के मरीजों से लगातार संवाद कर उनकी तबीयत पूछी जाती है।काउंसलर भी मरीजों से बात कर समस्याएं सुनते हैं। तबीयत बिगड़ने पर अस्पताल शिफ्टिंग का भी विकल्प है।

ये भी जानें- बिना लक्षण वाले मरीजों को होम आइसोलेशन का फॉर्म भरने में परेशानी आती है तो आप 7566100283 नंबर पर संपर्क करें।

आपातकालीन नंबर-

कोविड मरीजों के लिए आपातकालीन नंबर भी जारी किए हैं। जो इस प्रकार हैं।7566100283, 7566100284,7566100285, इन पर सहायता ले सकते हैं।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned