बोर्ड परीक्षा में असफल होने वाले स्टूडेंट्स को IAS का मैसेज, Facebook में शेयर किए अपने मार्क्स

बोर्ड परीक्षा में असफल होने वाले स्टूडेंट्स को IAS का मैसेज, Facebook में शेयर किए अपने मार्क्स

Ashish Gupta | Publish: May, 17 2019 07:34:31 PM (IST) | Updated: May, 17 2019 07:34:32 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

12वीं के एक छात्र की आत्महत्या की घटना से छत्तीसगढ़ के आईएएस अधिकारी अवनीश कुमार शरण (IAS Avnish Kumar Sharan) बुरी तरह आहत हुए। उन्होंने अपने फेसबुक (Facebook) वॉल पर स्टूडेंट्स के नाम एक मैसेज पोस्ट की। साथ ही उन्होंने पोस्ट में अपनी 10वीं, 12वीं और ग्रैजुएशन के माक्र्स को भी सार्वजनिक किया।

रायपुर. छत्तीसगढ़ में 10वीं और 12वीं के रिजल्ट घोषित हो चुके हैं। परिणाम आने के बाद कई छात्रों ने खुशी जताई तो कई अच्छे अंक नहीं आने पर मायूम हो गए। लेकिन 12वीं के परिणाम आने के बाद फेल होने पर रायगढ़ के 12वीं के एक छात्र ने आत्महत्या कर ली थी।

इस घटना से छत्तीसगढ़ के आईएएस अवनीश कुमार शरण (IAS Avnish Kumar Sharan) बुरी तरह आहत हुए। अवनीश शरण वर्तमान में छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले के कलेक्टर (Kawardha Collector) हैं। उन्होंने अपने फेसबुक वॉल पर स्टूडेंट्स के नाम एक मैसेज पोस्ट की।

उन्होंने अपने फेसबुक (Facebook) पोस्ट में लिखा, छत्तीसगढ़ बोर्ड (CG Board Results) परीक्षा के परिणाम घोषित हो चुके हैं। उससे पहले सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट (CBSE/ICSE Board Results) भी आ चुके हैं।

लेकिन मैंने अखबार में एक चौंकाने वाली ख़बर पढ़ी कि एक छात्र ने परीक्षा के परिणाम में मनमुताबिक नंबर नहीं पाने की वजह से ख़ुदकुशी (Suicide) कर ली। मैं सभी छात्रों और उनके माता-पिता से अपील करता हूं कि रिजल्ट (Results) को ज्यादा गंभीरता से मत लीजिए, ये सिर्फ एक नंबर गेम है। आपको भविष्य में ऐसे कई मौके मिलेंगे, जहां आप अपनी काबिलियत साबित कर सकते हैं।

इतना ही नहीं आईएएस अफसर (Chhattisgarh IAS) ने छात्रों के सामने अपना उदाहरण पेश किया। उन्होंने पोस्ट में अपनी 10वीं, 12वीं और ग्रैजुएशन के मार्क्स को भी सार्वजनिक किया। उन्होंने बताया कि उन्हें 10वीं में 44.5 प्रतिशत, 12वीं में 65 प्रतिशत और ग्रैजुएशन में 60.7 प्रतिशत अंक मिले थे। इसके बावजूद उन्हें मुश्किल मानी जाने वाली सिविल सर्विसेज की परीक्षा पास की और आज वो आईएएस अधिकारी हैं।

बतादें कि आईएएस अफसर अवनीश कुमार शरण (IAS Avnish Kumar Sharan) अपने सकारात्मक फैसलों को लेकर पहले भी सुर्खियों में रह चुके हैं। इससे पहले आईएएस अफसर ने अपनी बेटी को सरकारी स्कूल में दाखिल किया था। उनके इस फैसले को लेकर चारों ओर उनकी प्रशंसा हुई और सुर्खियों में बने रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned