scriptIllegal chiraling of Kahwa wood in sawmills of the district | प्रतिबंध के बाद भी जिले के आरा मिलों में कहवा लकड़ी की अवैध चिराई | Patrika News

प्रतिबंध के बाद भी जिले के आरा मिलों में कहवा लकड़ी की अवैध चिराई

अभनपुर के लमकेनी गांव में 25 मार्च को मुखबिर की सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम ने आरा मिल में छापा मारकर भारी मात्रा में अवैध काष्ठ जब्त किया गया। अवैध काष्ठ संग्रहण व चिरान की शिकायत के आधार पर डीएफओ विश्वेश कुमार के निर्देश पर उप वनमंडलाधिकारी विश्वनाथ मुखर्जी की टीम ने कार्रवाई की थी। ग्राम लमकेनी स्थित शुक्ला आरा मिल में 35 घनमीटर कहवा (अर्जुन) लकड़ी जब्त किया गया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार कहवा (KAHWA) का बाजार मूल्य 5 से 7 लाख रूपए है। घटनास्थल से गाडि़यों भी वनकर्मियों ने जब्त किया

रायपुर

Published: April 03, 2022 11:44:40 am

रायपुर। राज्य सरकार ने कहवा (KAHWA) की लकड़ी को औषधीय लकड़ी का दर्जा दिया है, लेकिन आरा मिल संचालक बेखौफ होकर कहवा लकड़ी की कटाई अपने आरा मिलो में कर रहे है। वन विभाग के अधिकारी आरा मिलों की जांच करने और दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने का दावा करते है, लेकिन हकीकत विभागीय अधिकारियों के दावों से कोसों दूर है। प्रतिबंध के बावजूद जिले के आरा मिलों में प्रतिबंधित लकड़ी कहवा का खुलेआम आरा मिलो में कटाई करने के बाद फर्नीचर और कोयला बनाने में उपयोग किया जा रहा है।
,Mafia is openly running ax on trees planted in the forests of Ghunghuti, the department is silent
,Mafia is openly running ax on trees planted in the forests of Ghunghuti, the department is silent
हर माह आरा मिलों को जांचने का नियम

वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार रेंज टीम को हर माह 4 आरा मिलों की जांच का लक्ष्य रहता है। लगातार रेंज की टीम अवैध रुप से लकड़ी लाने वालों पर नजर रखते हुए कार्रवाई भी करती है। गरियाबंद, दुर्ग, महासमुंद और रायपुर जिले के लकड़ी तस्कर प्रतिबंधित पेड़ कहवा को काटकर उसे राजधानी के आरा मिलों में खपा रहे है। अफसर सूचना मिलने पर कार्रवाई करने का दावा कर रहे हैं।
तस्करी का गिरोह है एक्टिव

पेड़ तस्करों (KAHWA) के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले एक्टविस्टों की मानें तो कहवा लकड़ी के कारोबार में अलग-अलग गिरोह सक्रिय है। इस गिरोह के सदस्य जंगलों से लकड़ी काटकर उसे सडक़ के रास्ते किस्तों में आरा मिल तक पहुंचाते हैं। इन तस्करों से वन विभाग के कुछ कर्मचारी भी मिले हुए है, जो पैसों की लालच में प्रतिबंधित लकड़ी को बिना जांच के टोल नाकों में सेटिंग कर लकड़ी से भरी गाडिय़ों को पार करवाते हैं। पूरा गिरोह आरा मिल संचालकों के इशारे पर चलता है और प्रतिबंधित लकड़ी मिल में गिराने के बाद उनका भुगतान किया जाता है।
25 मार्च को इस साल की पहली कार्रवाई

अभनपुर के लमकेनी गांव में 25 मार्च को मुखबिर की सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम ने आरा मिल में छापा मारकर भारी मात्रा में अवैध काष्ठ जब्त किया गया। अवैध काष्ठ संग्रहण व चिरान की शिकायत के आधार पर डीएफओ विश्वेश कुमार के निर्देश पर उप वनमंडलाधिकारी विश्वनाथ मुखर्जी की टीम ने कार्रवाई की थी। ग्राम लमकेनी स्थित शुक्ला आरा मिल में 35 घनमीटर कहवा (अर्जुन) लकड़ी जब्त किया गया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार कहवा (KAHWA) का बाजार मूल्य 5 से 7 लाख रूपए है। घटनास्थल से गाडि़यों भी वनकर्मियों ने जब्त किया था, जिसे राजसात किया गया है। इस कार्रवाई के बाद यह हल्ला हुआ कि बड़े कारोबारियों को छोड़कर छोटे कारोबारियों पर कार्रवाई की जा रही है। वन विभाग के अधिकारी आरोपों का खंडन कर रहे हैं।
यहां चल रहा कहवा की लकड़ी चिराई और कोयला बनाने का खेल

खमतराई, देवेंद्र नगर, फाफाडीह, पचपेड़ी नाका, भनपुरी, अभनपुर और रामसागरपारा में कहवा की चिराई हो रहा है। आमासिवनी, सकरी, उरला, सेजबहार, अभनपुर और खरोरा में कहवा लकड़ी से कोयला बनाने का काम किया जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Bypoll results 2022 LIVE: आंध्र प्रदेश के आत्मकुर से YSRCP के मेकापति विक्रम रेड्डी जीते, यूपी की दोनों सीटों पर सपा पीछेMaharashtra Political Crisis: गुवाहाटी से ही रणनीति बनाने में जुटे बागी विधायक, दिल्ली पहुंच सकते हैं बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीसMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र के सियासी संग्राम में अब उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे की हुई एंट्री, बागी विधायकों की पत्नियों से फोन पर की बातसिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद, फिर से सामने आया कनाडाई (पंजाबी) गिरोहबिहार ड्रग इंस्पेक्टर के घर पर छापेमारी, 4 करोड़ कैश और 38 लाख के गहने बरामदAzamgarh Rampur By Election Result : रामपुर और आजमगढ़ में भाजपा और सपा के बीच कड़ा मुकाबला35 साल बाद कोई तेज गेंदबाज करेगा भारतीय टीम का नेतृत्व, एक साल के अंदर बदले 7 कप्तानमेरे पास ममता बनर्जी को मनाने की ताकत नहीं: अमित शाह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.