अवैध रूप से संचालित बाल गृह से 20 बच्चों को दो दिन पहले छुड़ाया, यूट्यूब में वीडियो वायरल कर दिया था झांसा

- जब बच्चों के घर पहुंची टीम तो माता-पिता हो गए गायब, खरीद फरोख्त का संदेह .

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 12 Jul 2021, 03:09 PM IST

रायपुर । नया रायपुर स्थित सेक्टर 29 में अवैध रुप से संचालित बाल गृह से 20 बच्चों को दो दिन पहले छुड़ाया गया था। अब बच्चों की काउंसिलिंग के बाद बड़ा खुलासा हुआ है। आरोपी संस्था रिसाली भिलाई की लाईफ शो फाउण्डेशन के संचालक नरेश महानंद नें यूट्युब में वीडियो बनाकर वायरल किया था। जिसमें सर्व सुविधा के साथ बच्चों को रखने की बात कही गई थी। जिसके बाद बच्चों के रिश्तेदारों और माता-पिता नें संस्था से संपर्क किया। कुछ परिजनों ने बच्चों को नया रायपुर पहुंचाया गया और कुछ बच्चों को लेने संस्था के लोग उनके घर गए थे। अभी दूसरे और तीसरे चरण की काउंसिलिंग होना बांकी है। शनिवार को मंडला और बालाघाट की पुलिस और सीडब्लूसी टीम बच्चों के घर पहुंची तो उनके माता-पिता घर में ताला लगाकर गायब हो गए। टीम को संदेह है कि बच्चों की खरीद फरोख्त करके रायपुर लाया गया था। स्थानीय पुलिस को माता-पिता से पूछताछ करने के लिए कहा गया है। जिला कार्यक्रम अधिकारी अशोक पांडेय ने बताया कि उन्होंने दोनों जिलों के महिला बाल विकास विभाग को फोन और मेल पर जानकारी देकर जांच के लिए टीम भेजने को कहा था। इसके बाद यह जानकारी सामने आई है।

READ MORE : चेकपोस्ट पर पुलिस को देख उड़ गए होश और बीच सड़क में ट्रक छोड़ भाग निकला ड्राइवर, जब हुई तलाशी तो..

अधिकारियों नें का दर्ज हुआ बयान
अवैध बाल गृह से छुड़ाए गए 20 बच्चों को बालाघाट और मंडला की बाल संरक्षण समिति टीम सोमवार को लेने पहुंचने वाली थी, लेकिन रायपुर की बाल संरक्षण अधिकारी नवनीत स्वर्णकार नें बच्चों की काउंसिलिंग पूरी होने तक बच्चों को सुपुर्द करने से मना कर दिया है।

पुलिस नहीं दर्ज किया एफआईआर
राखी पुलिस को मामले में लिखित प्रतिवेदन महिला बाल विकास नें शुक्रवार को ही दे दिया था अब मामले को दो दिन से ज्यादा हो गए हैं लेकिन इतने संवेदनशील मामले में अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। अधिकारियों नें बताया कि राखी पुलिस को लिखित में शिकायत दे दी गई थी। अभी तक राखी पुलिस नें महिला बाल विकास के अधिकारियों का बयान दर्ज कर लिया है।

READ MORE : पड़ोस में रहने वाली 12 वर्षीय किशोरी को अगवा कर बलात्कार करने वाला गिरफ्तार

बच्चों की काउंसिलिंग की जा रही है। जिसमें अहम जानकारियां मिली है। बच्चों की खरीद फरोख्त की दिशा में भी जानकारी जुटाई जा रही है। पुलिस जांच में कई बड़े तथ्य सामने आ सकती हैं।
- अशोक पांडेय, कार्यक्रम अधिकारी , महिला एवं बाल विकास विभाग

READ MORE : कोरोना संक्रमण कम होते ही अस्पतालों में 3 गुना बढ़े मरीज

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned