शक्ति की भक्ति में मंत्रों के साथ स्वाहा से पूर्णाहूति

नवरात्रि के पूरे नौ दिनों तक शक्ति की भक्ति में रमें श्रद्धालुओं ने मंत्रों की स्वस्वर ध्वनियों के साथ स्वाहा बोल कर हवन कर नौ दिनों की भक्ति का समापन किया।

रायपुर. नवरात्रि के पूरे नौ दिनों तक शक्ति की भक्ति में रमे श्रद्धालुओं ने शुक्रवार को मंत्रों की स्वस्वर ध्वनियों के साथ स्वाहा बोल कर हवन कर नौ दिनों की भक्ति का समापन किया। आकाशवाणी स्थित काली मंदिर में दोपहर 3 बजे शुरू हुए हवन में सैकड़ों ने स्वाहा के साथ मां महागौरी और सिद्धदात्री का पूजन कर यज्ञ में मंत्रों के साथ आहूति दी।

केंद्रीय जेल परिसर, दंतेश्वरी मंदिर, बंजारी मंदिर में भी दिन में हवन संपन्न हुआ जिसमें सैकड़ों लोग सपरिवार शामिल हुए। कई मंदिरों में हवन के बाद कन्या भोज कराया गया। पुरानी बस्ती के महामाया मंदिर में रात 12 बजे के बाद हवन शुरू हुआ जो नवमीं की भोर को पूर्णाहूति के साथ समाप्त हआ। शनिवार की रात ज्योत विसर्जन किया जाएगा।

सुबह से लगा रहा श्रद्धालुओं का तांता
देवी मंदिरों में सुबह से ही माता के पूजन के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। भक्तों ने घरों में भी हवन कर कन्या भोज करा कर माता का आर्शीवाद लिया। वहीं मंदिरों में भी सुबह कन्या भोज और शाम को भंडारे का आयोजन किया गया। महामाया मंदिर में शनिवार को भंडारे का आयोजन किया जाएगा। पंडित आशुतोष झा ने बताया कि नौ दिनों तक मां के विभिन्न रूपों का पूजन संपन्न होने के साथ ही माता की भक्ति हुई। दंतेश्वरी मंदिर में भी ग्रामीण अंचल के सैकड़ों भक्तों आकर हवन में पूर्णाहूति दी।

डोंगरगढ़ जाने वालों की रही भीड़
सुबह से ही बस स्टेशन और रेलवे स्टेशन डोंगरगढ़ जाने वाले माता के भक्तों का हुजुम लगा रहा। मां बम्लेश्वरी के दर्शनों के लिए देर रात कर श्रद्धालु माता के दरबार में पहुंचते रहे। शनिवार को भी कटोरा तालाब के शिव निहाल मंदिर में हवन के साथ ही मां के सिद्धदात्री रूप का पूजन किया जाएगा। उसी तरह सारे गायत्री मंदिरों में भी सुबह ही हवन किया जाएंगा।
Show More
आशीष गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned