देश का कोरोना रिकवरी रेट 58 प्रतिशत, टॉप-टेन राज्यों में छत्तीसगढ़ छठवें स्थान पर

- अब खतरा उनसे जो लॉक-डाउन के चलते दूसरे राज्यों में फंसे थे,अब वापसी कर रहे हैं,दिल्ली और महाराष्ट्र में तेजी से बढ़ रहे हैं मरीज इसीलिए देश का रिकवरी रेट 58 प्रतिशत।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 29 Jun 2020, 04:16 PM IST

रायपुर . छत्तीसगढ़ में भले ही कोरोना मरीजों की संख्या 2500 का आंकड़ा पार कर गई हो, मगर राहत इस बात की है कि बीते 15 दिनों में बड़ी संख्या मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। यही वजह है कि प्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट (मरीजों के स्वस्थ होने की दर) जो 5 जून की स्थिति में 27 प्रतिशत था, वह तेजी से बढ़कर 74 प्रतिशत जा पहुंचा है, जो राज्य स्वास्थ्य विभाग और दिन-रात अपनी जान जोखिम में डालकर मरीजों के इलाज में जुटे स्वास्थ्यकर्मियों के लिए बड़ी उपलब्धि है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा 26 जून की स्थिति में तैयार की गई रिपोर्ट के मुताबिक जिन 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मरीजों का रिकवरी रेट देश में सबसे बेहतर है, उनमें छत्तीसगढ़ छठवें स्थान पर है। छत्तीसगढ़ का रिकवरी रेट मध्यप्रदेश से सिर्फ ३ प्रतिशत कम है। छत्तीसगढ़ का रिकवरी रेट देश के रिकवरी रेट से 16 प्रतिशत अधिक है। देश का रिकवरी रेट इसलिए कम है क्योंकि दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों में अभी भी बड़ी संख्या में मरीज मिल रहे हैं।

प्रदेश स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि अभी भले ही स्थिति संभलती दिख रही है, मगर कोरोना वायरस कभी भी तेजी से पलटवार कर सकता है। चिंता खासकर शहरी क्षेत्रों में है, क्योंकि मजदूरों की वापसी हो चुकी है और अब जो आएंगे वे या तो विदेश से आएंगे या फिर दूसरे राज्यों में फंसे अन्य तबके के लोग होंगे। जैसे- छात्र, परिवार के ऐसे लोग जो अपने नाते-रिश्तेदारों के यहां गए थे मगर लॉक-डाउन की वजह लौट न सके या फिर नौकरीपेशा लोग। अब ये सब ट्रेन, प्लेन या फिर निजी वाहनों के जरिए ई-पास लेकर वापसी कर रहे हैं। यह भी सच है कि जून के शुरुआत में केंद्र सरकार द्वारा बदले गए मरीजों की डिस्चार्ज गाइड-लाइन की वजह से भी अस्पतालों के बेड जल्दी खाली हो रहे हैं।

राज्यों में मरीजों का रिकवरी रेट
राज्य- रिकवरी रेट
त्रिपुरा- 70
चड़ीगढ़- 78
राजस्थान- 78
बिहार- 77
मध्यप्रदेश- 77
छत्तीसगढ़- 74
(नोट- स्वास्थ्य विभाग द्वारा 26 जून तक के आंकड़ों के आधार पर तैयार रिपोर्ट के अनुसार)

छत्तीसगढ़ में मृत्युदर 0.5 प्रतिशत

छत्तीसगढ़ में कोरोना के 2545 मरीजों में अब तक 13 मरीजों की मौत हुई है, जिनमें से 9 मरीज किसी न किसी अन्य बीमारी से पीडि़त थे, बाद में उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। मौत की एक वजह कोरोना वायरस भी रहा। प्रदेश में कोरोना से मृत्युदर 0.5 प्रतिशत है, जो पड़ोसी राज्यों की तुलना में काफी बेहतर है।

अब हमारी लापरवाही ही बढ़ा रही और बढ़ाएगी कोरोना की ताकत

प्रदेश में 2545 मरीजों में एक्टिव मरीजों की संख्या 700 से अधिक है। ये मरीज भी जल्दी ठीक होंगे। मगर, अब अगर मरीज बढ़े तो यह हमारी-आपकी लापरवाही से ही बढ़ेंगे। अगर हम मॉस्क लगाकर चलेंगे, सोशल और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे तो संभव है कि वायरस स्प्रेड रूकेगा। इसलिए नियमों का पालन करें ताकि जल्द नियंत्रण हो सके।

कोरोना को लेकर कोई भी पूर्वानुमान नहीं लगाया जा सकता। कभी भी एकाएक मरीज बढ़ सकते हैं। हां, बीते कुछ दिनों में जरूर काफी मरीज ठीक हुए हैं।
डॉ. अखिलेश त्रिपाठी, उप संचालक एवं प्रवक्ता, स्वास्थ्य विभाग

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned