कोरोना संकट के बीच राज्य कर्मचारी संघ की मांग, 21 सितम्बर से ITI न खोले शासन

राज्य कर्मचारी संघ छत्तीसगढ़ ने सचिव, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, छत्तीसगढ़ शासन, रायपुर एवं संचालक, तकनीकी शिक्षा, रोजगार एवं प्रशिक्षण को पत्र लिखकर कोविड-19 (COVID-19) के कारण प्रदेश में कोरोना संक्रमण के फैलाव को देखते हुए आगामी 21 सितम्बर से आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्रों को खोले जाने के आदेश पर पुनर्विचार कर उक्त आदेश को निरस्त करने की मांग की है।

By: Ashish Gupta

Published: 16 Sep 2020, 09:44 PM IST

रायपुर. राज्य कर्मचारी संघ छत्तीसगढ़ ने सचिव, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, छत्तीसगढ़ शासन, रायपुर एवं संचालक, तकनीकी शिक्षा, रोजगार एवं प्रशिक्षण को पत्र लिखकर कोविड-19 के कारण प्रदेश में कोरोना संक्रमण के फैलाव को देखते हुए आगामी 21 सितम्बर से आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्रों को खोले जाने के आदेश पर पुनर्विचार कर उक्त आदेश को निरस्त करने की मांग की है।

संघ के पूर्व प्रांताध्यक्ष वीरेन्द्र नामदेव ने बताया है कि प्रदेश में कोविड-19 के कारण आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्रों सहित वर्तमान में सभी स्तर के शैक्षणिक संस्थान बन्द हैं। संघ को जानकारी मिली है कि आगामी सोमवार 21 सितम्बर से आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्रों को खोले जाने और प्रशिक्षण प्रारम्भ करने के आदेश प्रसारित किये गए हैं। इस प्रकार के आदेश से प्रशिक्षण केन्दों में पदस्थ सभी वर्ग के कर्मचारियों एवं अधिकारियों में स्वास्थ्य संरक्षण को लेकर चिंतित होना स्वाभाविक है और उन्हें अपने साथ साथ उन बच्चों के स्वास्थ्य की चिन्ता है जो आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्र में प्रशिक्षण हेतु उपस्थित होंगें।

एके चेलक ने कहा शासन के साथ साथ बच्चो, अभिभावकों और संस्थानों से जुड़े सभी वर्ग को चिन्ता है कि पिछला प्रशिक्षण अधूरा है, परीक्षाएं रुकी पड़ी हैं। जिसे पूरा करने की आवश्यकता है, परन्तु इसके लिये जान माल की बाजी लगाकर जबरन ऐसा प्रयास अनुचित कदम होगा। अत: वर्तमान स्थिति में प्रदेश में कोरोना वायरस के भारी फैलाव को देखते हुए आईटीआई प्रशिक्षण केन्द्रों को 21 सितम्बर से खोलने के निर्णय पर पुनर्विचार कर जनहित में यथा वत बन्द रखे जाने की मांग की है। उपाध्यक्ष पूरन सिंह पटेल, वंदना मिश्रा, कर्मचारी नेता बी एस दसमेर, जी आर बसोने, ओपी पाल, सन्तोष ध्रुव के सहित कर्मचारियों ने मांग की।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned