कोरोना के बीच शहर के चारों दिशा में फैला पीलिया, अब तक 50 लोग पीलिया से पीडि़त

शहर में पिछले एक सप्ताह से पीलिया फैला हुई। मरीजों की संख्या में लगातार बढ रही है। पीलिया की शुरुआत आमापारा स्वीपर कॉलोनी से हुई, जो अब शहर के अन्य इलाकों में भी फैल चुका है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 08 Apr 2020, 10:06 PM IST

रायपुर. कोरोना और पीलिया दोनों बीमारियों का कहर इस समय राजधानी के लोग भुगत रहे है। शहर में पिछले एक सप्ताह से पीलिया फैला हुई। मरीजों की संख्या में लगातार बढ रही है। पीलिया की शुरुआत आमापारा स्वीपर कॉलोनी से हुई, जो अब शहर के अन्य इलाकों में भी फैल चुका है। बुधवार को शहर में अलग-अलग इलाकों से कुल 11 नए मरीज सामने आए हैं। इन सभी का इलाज अस्पतालों में चल रहा है। इस तरह पिछले 10 दिन में शहर में पीलिया के 50 मरीज हो चुके हैं। जिसमें करीब १९ लोगों ठीक भी हो चुके हैं। बाकी 20 लोगों को अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। खोखो पारा में बुधवार को ५ पांच नए मिले हैं। यहां पहले भी 2 लोग पीलिया से पीडि़त थे।

आमापारा में टैंकर सप्लाई, आज से डालेंगे नई पाइप लाइन

आमापारा में पीलिया फैले १० दिन से अधिक हो गए हैं। यहां गंदा पानी आने का सिलसिला लगातार जारी है। इसलिए नगर निगम ने यहां की पानी सप्लाई वाली लाइन को बंद कर दिया है। गुरुवार से नई पाइप लाइन डालने का काम शुरू किया जाएगा। इसके अलावा लोगों को क्लोरीन टेबलेट और पानी को उबालकर पीने की सलाह दी जा रही है। साथ ही आमापारा में हर दिन पांच टैंकर से पानी सप्लाई की जा रही है।

टंकियों में एक्स्ट्रा क्लोरीन डालने के निर्देश

आयुक्त सौरभ कुमार ने ईदगाह भाठा और डंगनिया पानी टंकी के पानी की जांच की। जिसमें क्लोरीन औसत मिली। इसके अलावा आयुक्त ने खुद आमापारा में टैंकर से पानी सप्लाई की भी जांच की। फिर भी आयुक्त ने सावधानी की दृष्टि से टंकियों में एक्स्ट्रा क्लोरीन डालने के निर्देश दिए हैं।

पार्षद से नाराज क्षेत्र के लोग

आमापारा के स्वीपर कॉलोनी में पिछले दस दिन से पीलिया फैला हुआ है, लेकिन एक बार भी क्षेत्र के पार्षद ज्ञानेश शर्मा ने लोगों के हालचाल जानने नहीं पहुंचे हैं। इस कारण से पार्षदों को लेकर क्षेत्र के लोगों में भारी नाराजगी है। लोगों का कहना है कि पिछले दस दिन से क्षेत्र में गंदा पानी आ रहा है, लेकिन पार्षद झांकने तक नहीं आए।

पार्षद दुबे ने दी धरने पर बैठने की चेतावनी

सुंदर नगर वार्ड के पार्षद मृत्युंजय दुबे ने नगर निगम प्रशासन को चेतावनी दी है कि यदि शहर में शीघ्र साफ सप्लाई नहीं हुई, तो वे खुद अकेले निगम मुख्यालय के गेट पर धरने पर बैठेंगे। उन्होंने बताया कि वार्ड में फरवरी में ही गंदा पानी आने की शिकायत महापौर और आयुक्त से की थी। इसके बावजूद कुछ इलाकों में गंदा पानी आने का सिलसिला बंद नहीं हुआ है। फिर भी महापौर और नगर निगम प्रशासन कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है। बुधवार को पार्षद दुबे ने महापौर को ज्ञापन भी दिया। जिसमें उन्होंने लिखा है कि पीलिया से लोग बुरी तरह से जकड़ रहे हैं, लेकिन निगम की ओर से रोकथाम को लेकर कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है।

बुधवार को कुछ इलाकों से 11 नए मरीज मिलने की सूचना है। सभी जोन कमिश्नरों को जिन जगहों पर पीलिया के मरीज मिले हैं, वहां की पाइप लाइन चेक करने के निर्देश दिए गए है। साथ ही आमापारा में नई पाइप लाइन डालते तक टैंकर से पानी सप्लाई कराई जा रही है। इसके अलावा कुछ टंकियों में एक्स्ट्रा क्लोरीन डालने के निर्देश दिए गए हैं, ताकि लोगों के घरों तक साफ पहुंचे।

- सौरभ कुमार, आयुक्त, नगर निगम रायपुर

coronavirus Coronavirus Outbreak
Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned