JEE Advanced 2019: जेईई एडवांस में केमेस्ट्री ईजी, फिजिक्स और मैथ्स ने किया परेशान

JEE Advanced 2019: जेईई एडवांस में केमेस्ट्री ईजी, फिजिक्स और मैथ्स ने किया परेशान

Ashish Gupta | Updated: 27 May 2019, 08:09:07 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

आईआईटी (IIT) में दाखिला पाने के लिए ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन-एडवांस (JEE Advanced 2019) का टेस्ट हुआ। आइए जानते हैं परीक्षार्थियों के लिए कैसा रहा इस बार Joint Entrance Examination Advanced का प्रश्न पत्र।

रायपुर. आईआईटी (IIT) में दाखिला पाने के लिए सोमवार को ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन-एडवांस (JEE Advanced 2019) का टेस्ट हुआ। इस बार का पेपर पिछले साल के उलट रहा। लास्ट ईयर फिजिक्स और मैथ्स आसान थे जबकि इस साल दोनों लैंदी रहा। छात्रों की मानें तो पेपर-1 और पेपर-2 में केमेस्ट्री सरल रहा वहीं फिजिक्स और मैथ्स दोनों पेपर में लैंदी रहा।

हालांकि छात्र कटऑफ के बाद ही मनपसंद आईआईटीज के बारे में तय कर पाएंगे लेकिन अगर कोई छात्र 65 प्लस माक्र्स गेन कर पाता है तो उसे आईआईटी बाम्बे (IIT Bombay), आईआईटी मद्रास (IIT Madras), आईआईटी रुड़की (IIT Roorkee), आईआईटी देल्ही (IIT Delhi), आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) और आईआईटी खडग़पुर (IIT Kharagpur) मिल सकता है।

परीक्षा दो पालियों में आयोजित की गई जिसमें पहली पाली सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक एवं दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक यह परीक्षा आयोजित हुई। जेईई एडवांस (JEE Advanced) के लिए राजधानी में सरोना में परीक्षा केंद्र बनाया गया। दोनों पालियों में 54-54 सवाल पूछे गए जो कि 186-186 मॉक्र्स के रहे।

कैंडीडेट्स का कहना है कि इस बार फिजिक्स (Physics) काफी टफ रहा और मैथ्स (Maths) एवं केमेस्ट्री (Chemistry) में सरल प्रश्न आए। जिसमें कार्बोनाइट के फॉर्मूले और मैग्नेटाइट के रिएक्शन से रिलेटेड क्वेश्चन किए गए। इस दौरान परीक्षा केंद्र के बाहर धूप से बचने के इंतजाम भी नहीं किया गया और चिलचिलाती धूप में ही अभ्यार्थी और उनके परिजन घंटों खड़े रहे।

जगदलपुर और सरगुजा के छात्र भी पहुंचे

जेईई एडवांस (Joint Entrance Examination Advanced) टेस्ट के लिए रायपुर के अलावा जगदलपुर और सरगुजा के प्रयास विद्यालय के करीब 150 से अधिक स्टूडेंट्स शामिल हुए। परीक्षा देने के लिए वे अपना वाहन बुक करके रायपुर आए और साथ में खाने का सामान भी लाए।

परीक्षा केंद्र के बाहर धूप से बचने का इंतजाम न होने पर एक पेड़ का सहारा लिया और वहीं बैठकर एग्जाम के बाद खाना बनाया और खाया। इन छात्रों में करीब 50 से अधिक स्टूडेंट्स रायपुर से बाहर पढ़ रहे प्रयास विद्यालय के थे।

ईजी रहा पेपर
जेईई एडवांस (JEE Advanced 2019 Exam) का पेपर ईजी रहा। इसमें कैमेस्ट्री से जो प्रश्न आए वे काफी सरल रहे। वहीं गणित से ज्यादा फिजिक्स टफ रहा। अगर ओवरऑल देखा जाए तो पेपर सही रहा।

मैथ्स लगा टफ
अभिनव जैसवाल ने कहा, पेपर में कैमेस्ट्री पार्ट के क्वेशचन ईजी रहे। मैथ्स मेरा थोड़ा वीक है तो टफ लगा वहीं फिजिक्स मोडरेट रहा। परीक्षा हॉल में सभी सुविधाएं सही थी, लेकिन सेंटर के बाहर धूप से बचने के इंजताम नहीं किए गए और जिन्होंने दूसरी पाली में पेपर दिया उनके लिए कड़ी धूप का सामना करना पड़ा।

फिजिक्स में लगाना पड़ा दिमाग
सौम्या दीक्षित ने बताया कि पेपर में फिजिक्स पार्ट के क्वेशवन टफ रहे और दिमाग लगाना पड़ा, वहीं कैमेस्ट्री और मैथ्स ज्यादा टफ नहीं लगा। पेपर मोडरेट था। सिलेबस से बाहर कुछ नहीं पूछा गया।

थोड़ी हुई परेशानी
परीक्षा देकर बाहर निकले राहुल सिंह ने बताया पेपर में फिजिक्स टफ लगा वहीं कैमेस्ट्री के प्रश्न ईजी थे। इसमें पदार्थों के फॉर्मूला आदि पूछे गए। वहीं परीक्षा केंद्र के बाहर थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा क्योंकि न तो वहां पार्र्किंग की व्यवस्था थी और परीक्षा के बाद करीब 45 मिनट तक जाम लगा रहा।

पैटर्न में किया चेंज
सिद्देश पांडेय ने कहा, पहले पेपर में मल्टी करेक्ट, सिंगल करेक्ट और न्यूमेरिकल क्वेश्चन पूछे गए, जबकि सेकंड में सिंगल करेक्ट को हटा दिया गया। सिर्फ मल्टी करेक्ट और न्यूमेरिकल सवाल ही पूछे गए। सिंगल की बजाय मेट्रिक्स मैथ्स पूछा गया।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned