युवाओं के लिए अच्छी खबर, चुनाव के बाद खुलेगा नौकरी का पिटारा

नगरीय निकाय और त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के बाद सरकार विशेष पिछड़ी जनजाति के युवाओं के लिए नौकरी का पिटारा खोलने की तैयारी शुरू कर दी है।

By: Ashish Gupta

Published: 19 Dec 2019, 04:40 PM IST

रायपुर. नगरीय निकाय और त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के बाद सरकार विशेष पिछड़ी जनजाति के युवाओं के लिए नौकरी का पिटारा खोलने की तैयारी शुरू कर दी है। सरकार ने अनुसूचित जनजाति क्षेत्र से तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के रिक्त पदों की जानकारी मंगाई है। साथ ही बेरोजगार युवाओं का सर्वे भी कराया जा रहा है।

दरअसल, आदिवासी समाज के विभिन्न संगठनों ने राज्यपाल अनसुईया उईके से विशेष पिछड़ी जनजाति युवाओं को नौकरी नहीं मिलने की शिकायत की थी। राज्यपाल ने मामले को गंभीरता से लिया था। बताया जाता है कि इसके बाद राजभवन से शासन स्तर पर पत्राचार भी किया था।

वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में पिछले दिनों हुई विभिन्न विकास प्राधिकरणों की बैठक में भी यह बात प्रमुखता से उठी थी। इसके बाद सरकारी स्तर पर भर्ती का प्रयास शुरू हुआ है। इसके लिए बकायदता तृतीय एवं चतुर्थ वर्ग के रिक्तपदों पर विशेष पिछड़ी जनजाति के युवाओं भर्ती के लिए जिलों में सर्वे करावाया जा रहा है।

मालूम हो कि जिलों में 5वीं कक्षा से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण होने वाले युवाओं को रिक्त पदों पर शैक्षणिक योग्यता के आधार पर रिक्त पदों को भरा जाना है। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास सचिव डीडी सिंह ने संबंधित जिलों को जल्द से जल्द सर्वे रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए हैं। माना जा रहा है कि फरवरी-मार्च तक त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव हो जाएंगे।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned