Kaushal Vikas Yojana: छत्तीसगढ़ के युवा सीखेंगे जापानी भाषा, रोजगार से जोड़ने पर जोर

- कौशल विकास योजना के तहत मिलेगा प्रशिक्षण
- मंत्री अमरजीत भगत ने बैठक में दिए निर्देश

By: Ashish Gupta

Published: 17 Mar 2021, 11:19 PM IST

रायपुर. राज्य सरकार (Chhattisgarh Government) छत्तीसगढ़ के युवाओं को कौशल विकास योजना (Kaushal Vikas Yojana) के तहत जापानी भाषा सिखाने की पहल करेगी। इसके लिए सभी जिलों के कलेक्टरों को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। इस संबध में आर्थिक एवं सांख्यिकी मंत्री अमरजीत भगत ने मंगलवार को विभागीय समीक्षा बैठक में अधिकारियों निर्देश दिए। उन्होंने कहा, इण्डो-जापान फाउंडेशन द्वारा एमओयू किया गया है। जिसका उद्योग विभाग नोडल विभाग है।

यह भी पढ़ें: रेलवे ने यात्रियों को दी बड़ी राहत, जून तक चलेंगी ये स्पेशल ट्रेनें, देखें डिटेल्स

एमओयू का उद्देश्य कौशल विकास योजना के तहत जापानी भाषा का अध्ययन कराना है, जिससे स्थानीय युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार से जोड़ा जा सके। बैठक में राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में मंत्री भगत ने कोविड-19 में प्रवासी मजदूरों के व्यवस्थापन एवं जीविकोपार्जन के लिए विशेष प्रयास किए जाने पर बल दिया। नवाचार, एमओयू आदि के कार्यों की समीक्षा हर तीन माह में की जाएगी।

यह भी पढ़ें: अब प्लेटफार्म टिकट लेने के लिए यात्रियों को देना होगा तीन गुना अधिक दाम

बैठक में बताया गया कि वर्ष 2021-22 के बजट में नवाचार के लिए 2 करोड़ रूपए का बजट प्रावधान किया गया है। राज्य योजना आयोग द्वारा यूएनडीपी के सहयोग से किए जा रहे कार्यों के बारे में बताया कि राज्य के नौ विकासखण्डों का चयन कर लेबर रिसोर्स सेंटर विकसित किया जा रहा है। जिसमें प्रवासी मजदूरों के डाटा संकलन, स्किल मैपिंग तथा स्थानीय उद्योगों के अनुकूल मानव संसाधन तैयार कर उद्योगों से लिंकेज करने का कार्य किया जा रहा है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned