scriptKnow why Capsicum got its name even after being American | अमेरिकी होने के बाद भी आखिर Capsicum का नाम भारत में क्यों पड़ा शिमलामिर्च | Patrika News

अमेरिकी होने के बाद भी आखिर Capsicum का नाम भारत में क्यों पड़ा शिमलामिर्च

शिमलामिर्च को पहाड़ी मिर्च भी कहा जाता है। ये स्किन को चमकदार तो रखती ही है साथ- साथ आंखों की रोशनी को भी बरकरार रखती है। विशेष बात यह है कि यह भारत की उपज नहीं है, इसके बावजूद इस मिर्च के साथ शिमला कैसे जुड़ गया।

 

रायपुर

Published: June 12, 2022 06:49:19 pm

रायपुर. क्या आपको मालूम है शिमला मिर्च कोई सब्जी नहीं है। यह असल में एक फल है, लेकिन भारत में इसका अधिकतर इस्तेमाल सब्जी के रूप में किया जाता है। इसमें विटामिन तो भरपूर होते ही हैं, यह कोलेस्‍ट्रॉल भी बिल्कुल नहीं बढ़ाती। इसलिए इसका चलन आजकल खूब बढ़ गया है। इसमें विटामिन सी भी पर्याप्त मात्रा में है, जिस कारण सर्दी जुकाम या अन्य बीमारियों से बचाव होता है और प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ती है।

.

बिन शिमलामिर्च अधूरी हैं कॉन्टिनेंटल डिशेज
भारत में शिमला मिर्च आसानी से मिलती है और ज्यादा महंगी भी नहीं है, इसके बावजूद यह थोड़ी रिच मानी जाती है, क्योंकि आजकल इसका कॉन्टिनेंटल डिशेज में जमकर उपयोग हो रहा है। पिज्जा, नूडल्स, बर्गर, पनीर टिक्का, फ्रेंच ऑमलेट के अलावा नॉनवेज की कई आइटम में स्वाद लाने के लिए इसका इस्तेमाल जरूरी हो गया है। अब तो हरे रंग के अलावा लाल व पीले रंग की भी शिमला मिर्च मिलने लगी हैं और सलाद मे इसका खूब उपयोग होता है। इसके अलावा गार्निशिंग के लिए भी शिमला मिर्च का काफी उपयोग किया जाता है।

सब्जी नहीं बल्कि फल है शिमलामिर्च
भारत में अभी भी शिमला मिर्च को सब्जी माना जाता है और मसालेदार आलू से भरी शिमला मिर्च की सब्जी किसी के भी मुंह में पानी ला सकती है। लेकिन असल में यह सब्जी नहीं बल्कि फल है। ब्रिटेनिका विश्वकोष में शिमला मिर्च को फल ही कहा गया है। वनस्पति शास्त्र के अनुसार किसी पौधे के फूल में मौजूद अंडाणु से विकसित होने वाले हिस्से को फल कहा जाता है जबकि पौधे की जड़, तने और पत्तियों से विकसित होने वाले हिस्से को सब्जी कहा जाता है। चूंकि शिमला मिर्च, टमाटर आदि फूल से निकलते हैं इसलिए इन्हें फल की श्रेणी में रखा जाता है।

अंग्रेज हैं शिमलामिर्च के शिमलामिर्च कहलाने का कारण
इतिहास की किताबें और रिसर्च बताती हैं कि शिमला मिर्च की उत्पत्ति केंद्र दक्षिण अमेरिका और उपकेंद्र पेरू, इक्वाडोर व बोलिविया है। इन क्षेत्रों में शिमला मिर्च की खेती करीब 3000 सालों से की जा रही है। इस सब्जी का नाम भारत में शिमला मिर्च क्यों पड़ा, उसकी कहानी यह है कि भारत में राज करने वाले अंग्रेज गर्मियों में शिमला को राजधानी बनाते थे। वे अपने साथ इस सब्जी का बीज भी लाए और शिमला क्षेत्र के अनुकूल मौसम व पहाड़ी मिट्टी को देखते हुए उन्होंने इसे वहां बोया, यह उग गई तभी से इसका नाम शिमला मिर्च पड़ गया। यह वाकई भारत के लिए ‘नई सब्जी’ है, क्योंकि देश के प्राचीन धार्मिक व पौराणिक ग्रंथों में इसका वर्णन नहीं है, न ही भारत के पुराने खान-पान में इसका कहीं जिक्र है।

एंटीऑक्सीडेंट से है भरपूर और कोलेस्‍ट्रॉल से कोसो दूर
गुणों के मामले में शिमला का कोई जवाब नहीं है। जो सब्जी जितनी ज्यादा चमक व रंग लिए होगी, उसमें एंटीऑक्सीडेंट तो खूब होगा ही साथ ही इस तरह की सब्जियां शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल को बिल्कुल भी नहीं बढ़ाती हैं। फूड एक्सपर्ट व न्यूट्रिशियन कंसलटेंट का कहना है शिमला मिर्च में तीखा बनाने वाला कंपाउंड कम होता है, इसलिए इसका फ्लेवर तीखी मिर्च जैसा नहीं है। इसमें रस भी है और हल्का सा मीठापन भी। इसमें न्यूट्रिन जैसे विटामिन सी, ए और बीटा कैरोटीन काफी मात्रा में होता है, लेकिन कैलोरी नहीं होती, जिससे बेड कोलेस्‍ट्रॉल नहीं बढ़ता। शिमला मिर्च से वजन भी कंट्रोल रहता है।

शिमलामिर्च के अधिक सेवन से हो सकती हैं ये परेशानियां
शिमलामिर्च के अधिक सेवन का नुकसान यह है कि अगर इसे ज्यादा मात्रा में खा लिया जाए तो पेट में गैस की समस्या हो सकती है। इसका ज्यादा सेवन त्वचा में खुजली व रूखापन पैदा कर सकती है। इसके अलावा इसके सेवन से कुछ देर नाक बहने व आंखों में आंसू बहने की भी समस्या हो सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

मुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहाराजस्थान के अलवर जिले में मॉब लिंचिंग, बेरहमी से पिटाई के बाद शख्स की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.