AIIMS में नौकरी का झांसा देकर बेरोजगारों से ठगी, आरोपी गिरफ्तार

AIIMS में नौकरी का झांसा देकर बेरोजगारों से ठगी, आरोपी गिरफ्तार

Chandu Nirmalkar | Publish: Apr, 15 2019 09:26:33 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

आरोपी के गिरोह में और कौन शामिल है? इसकी जानकारी पुलिस अधिकारियों द्वारा जुटाई जा रही है।

रायपुर. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में नौकरी दिलाने का झांसा देकर बेरोजगार युवक-युवतियों से लाखों रुपए ठग लिए गए। इसकी शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने कई लोगों को ठगा है।

पुलिस के मुताबिक रोटरी नगर निवासी शेख अशरफ एम्स के अधिकारियों से अपने अच्छे संबंध होने का दावा करते हुए युवक-युवतियों को नौकरी लगाने का झांसा देता था। उसने बीएसयूपी कॉलोनी निवासी एम रूपा को आया बाई की नौकरी लगवाने का आश्वासन दिया। इसके एवज में उससे 4 हजार रुपए ले लिए।

पैसा, अंकसूची, आधार कार्ड की फोटोकॉपी व फोटो लेने के बाद 2 अप्रैल को इंटरव्यू के लिए एम्स में बुलाया। इसी तरह उसने भनपुरी निवासी एम देवीप्रिया, एम चैतन्या, रीतेश कुमार सेन, तेजस्वी सेन, भाग्यलक्ष्मी मज्जी, बागेश्वरी वर्मा, अनिता सेन, लीला निषाद, नरोत्तम साहू, शुभम यादव, शकुंतला मानिकपुरी, उमेश्वरी धीवर, दामिनी बंजारे, मोनिका वर्मा, अंकित कुमार मंडल को भी नौकरी लगाने के नाम पर पैसे लिए थे।

इंटरव्यू के लिए अस्पताल बुलाया
आरोपी ने सभी से नौकरी लगाने के एवज में लाखों रुपए ले लिए थे और सभी को इंटरव्यू के लिए 2 अप्रैल को एम्स में बुलाया था। सभी एम्स के गेट नंबर 2 में पहुंचे। इसके बाद उसे फोन लगाया, आरोपी शेख अशरफ ने फोन उठाना बंद कर दिया। काफी इंतजार के बाद भी आरोपी नहीं पहुंचा और न ही फोन उठाया, तो युवक-युवतियां एम्स के अधिकारियों के पास पहुंचे। अधिकारियों ने अशरफ को जानने से इनकार कर दिया। इसके बाद पीडि़तों ने आमानाका थाने में शिकायत की। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया।

14 दिन से फरार था आरोपी
पीडि़तों के मुताबिक आरोपी के बारे में उन्हें जानकारी बीएसयूपी कॉलोनी निवासी महिलाओं से मिली थी। नौकरी मिलने के लालच में पीडि़तों ने आरोपी अशरफ से संपर्क किया और ठगी शिकार हो गए। आरोपी ने सभी को एम्स अलग-अलग समय पर बुलाया था, लेकिन पीडि़त एक ही समय पहुंच गए तो उसकी पोल खुल गई। आरोपी के एम्स नहीं पहुंचने जब पीडि़तों ने उसे फोन किया, तो फोन बंद बताया। पीडि़तों ने आरोपी के खिलाफ लिखित शिकायत पुलिस में दी। पीडि़तों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर रविवार की रात गिरफ्तार कर लिया।

रिकार्ड खंगालने में जुटे अधिकारी
आरोपी शेख असरफ इलाके में कब से सक्रिय है? कितने लोगों के साथ उसने ठगी की है? इन सभी बातों की जानकारी जुटाने में पुलिसकर्मी जुटे हुए है। ठगी के पैसे का आरोपी ने क्या इस्तेमाल किया? इसका पता भी विवेचना अधिकारियों द्वारा लगाया जा रहा है। आरोपी पूर्व में कितने लोगों को झांसा देकर ठग चुका है? इस जानकारी जुटाने के लिए विवेचना अधिकारी जिला पुलिस से आरोपी के बारे में जानकारी जुटा रहे है। आरोपी के गिरोह में और कौन शामिल है? इसकी जानकारी पुलिस अधिकारियों द्वारा जुटाई जा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned