डेढ़ महीने बाद खुली शराब दुकान को डंडे लेकर पहुंची महिलाओं ने कराया बंद

लॉकडाउन (Lockdown 3.0) में मिली छूट के बाद शराब दुकानों (Liquor Shop) के खुलते ही छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में इसे बंद करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुके हैं।

By: Ashish Gupta

Published: 05 May 2020, 06:02 PM IST

रायपुर. तीसरे लॉकडाउन (Lockdown 3.0) में मिली छूट के बाद शराब दुकानों (Liquor Shop) के खुलते ही छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में इसे बंद करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुके हैं। महिलाएं शराब के विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन कर रहीं हैं।

इस बीच रायपुर में भी महिलाओं ने मंगलवार को सड़क पर उतरकर शराब का विरोध किया। अवंति विहार की महिलाएं हाथों में डंडे लेकर दोपहर करीब 1 बजे खमतराई थाना स्थित शराब दुकान बंद कराने पहुंची। महिलाओं ने शराब के विरोध में नारेबाजी की और शराब दुकान को बंद करने की मांग की।

मौके पर पुलिस ने महिलाओं को समझाया और कुछ देर के लिए शराब दुकान को बंद किया गया। खमतराई थाने की पुलिस ने महिलाओं के साथ विरोध कर रहे 6 पुरुषों के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। पुलिस ने धारा 144,188 और तोड़फोड़ समेत शासकीय कार्य में बाधा की धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया है।

शराब दुकान खुलते ही टूटा सब्र का पैमाना

उधर, लॉकडाउन के चलते तकरीबन डेढ़ महीने बाद सोमवार को शराब दुकान खुलते ही जहां लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। वहीं लॉकडाउन के नियमों का खुलेआम उल्लंघन होता रहा। राजधानी रायपुर के मोवा में सुबह 4 बजे से शराब खरीदने के लिए लंबी लाइन लग गई। अव्यवस्था के चलते कई जगहों पर 2 से 3 घंटे में ही शराब दुकान बंद करनी पड़ी तो कई जगह भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठी भांजनी पड़ी।

इस भीड़ का पूरा फायदा उठाया शराब दुकानों में काम करने वाले कर्मचारियों ने। एक-एक बोतल पर 300 से 400 रुपए ओवर रेटिंग की गई। इसके अलावा क्वार्टर में 50 से 60 रुपए अतिरिक्त लिया जा रहा है। 'पत्रिका' टीम ने कुछ शराब दुकानों की पड़ताल की और पूरा माजरा कैमरे में कैद किया।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned