रायपुर में 7 दिन और बढ़ सकता है लॉकडाउन, सीएम आज कर सकते हैं समीक्षा बैठक

अगर, लॉकडाउन खोला जाता है तो इन त्योहारों में लोगों की खासी आवाजाही होगी कोरोना चैन फिर बनने लगेगी।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 27 Jul 2020, 07:54 AM IST

रायपुर. प्रदेश की राजधानी रायपुर में कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए 22 से 28 जुलाई तक लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया था। यह समय-सीमा मंगलवार को पूरी होने जा रही है। तो क्या लॉकडाउन खत्म हो जाएगा या जारी रहेगा?

रायपुर जिला प्रशासन, नगर निगम और जिला स्वास्थ्य महकमें के शीर्ष अधिकारियों की मानें तो अगले सात से नौ दिन यानी 29 जुलाई से 5-6 अगस्त तक लॉकडाउन के बढ़ाए जाने के संकेत हैं, क्योंकि 1 अगस्त को बकरीद है और 3 अगस्त को रक्षाबंधन। अगर, लॉकडाउन खोला जाता है तो इन त्योहारों में लोगों की खासी आवाजाही होगी कोरोना चैन फिर बनने लगेगी। वायरस को फैलने का पूरा मौका मिल जाएगा और लॉकडाउन का उद्देश्य शून्य हो जाएंगे।

सूत्रों की मानें तो पूर्व में ही स्वास्थ्य विभाग ने 14 दिन के लॉकडाउन की अनुशंसा की थी। मगर, जिला कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने सरकार के आदेश पर 7 दिन का ही लॉकडाउन का आदेश निकाला था। यह इसलिए भी किया गया होगा ताकि अफरा तफरी न मचे, लोगों में दहशत न पैदा हो। लॉकडाउन के फायदे आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित होने से लोग घरों में हैं। कार्यालय, धार्मिक स्थल, मॉल, रेस्त्रां समेत सब कुछ बंद हैं। ऐसे में जिन लोगों के अंदर वायरस है तो वे समुदाय को संक्रमित नहीं कर सकते। 7 दिन में लक्षण दिखने पर खुद अस्पताल आएंगे। जैसा- बीते 5 दिनों में हुआ है।

- बाजार बंद होने से कोरोना चैन ब्रेक होने में मदद मिलती है। रायपुर के गली-मोहल्लों में होल-सेल की दुकानें और गोदाम है। दूसरे जिलों, प्रदेशों से गाड़ियां आती है। ड्राइवर, हेल्पर और हमाल आते हैं। जिनसे खतरा है।

इसलिए कम से कम 14 दिन जरूरी है लॉकडाउन
पत्रिका ने कोरोना कंट्रोल एंड कमांड सेंटर के सदस्य एवं आंबेडकर अस्पताल के टीबी एंड टेस्ट विभागाध्यक्ष डॉ. आरके पंडा से बात की। उन्होंने कहा, वायरस अगर हमारे शरीर में हैं तो वह 5 से 14 दिन में एक्टिव होता है। या कहें की लक्षणं दिखाता है। इसे औसतन 10 दिन मान लें, इसलिए 14 दिन के लॉकडाउन का कांसेप्ट है। ताकि चैन को ब्रेक किया जा सके। सबसे पहला लॉकडाउन 14 दिन का लगाया गया था।

परिस्थितियों को देखते हुए कलेक्टर लॉकडाउन को बढ़ाए जाने का निर्णय ले सकते हैं, क्योंकि, जितना कम से कम मूवमेंट होगा, उतना हम वायरस के फैलाव को रोकने की स्थिति में होंगे। टी.एस. सिंहदेव, स्वास्थ्य मंत्री

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned