छत्तीसगढ़ की तीनों सीटों पर 71.09 प्रतिशत मतदान, 36 उम्मीदवारों की किस्‍मत EVM में कैद

छत्तीसगढ़ की तीनों सीटों पर 71.09 प्रतिशत मतदान, 36 उम्मीदवारों की किस्‍मत EVM में कैद

Ashish Gupta | Updated: 18 Apr 2019, 09:00:58 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत तीन सीटों के लिए मतदान गुरुवार को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। 71.09 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

रायपुर. छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत तीन सीटों के लिए मतदान गुरुवार को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। इन लोकसभा सीटों में नक्सल प्रभावित 6 विधानसभा क्षेत्रों में तीन बजे मतदान समाप्त हो गया था, जबकि अन्य क्षेत्रों में पांच बजे तक मतदान का कार्य चलता रहा। इन सभी क्षेत्रों में 71.09 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। चुनाव अधिकारी के मुताबिक इस आंकड़े में अभी बदलाव हो सकता है, क्योंकि मतदान के अंतिम आंकड़े आने अभी बाकी हैं।

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव, कांकेर और महासमुंद संसदीय क्षेत्रों में मतदान के दौरान 49 लाख से ज्यादा मतदाताओं के लिए 6484 मतदान केंद्र बनाए गए थे। दूसरे चरण में मतदान को लेकर लोगों में उत्साह देखा गया। मतदान केदों पर मतदाताओं की लंबी कतार देखी गई। हालांकि दोपहर में कतार की लंबाई कम हो गई। दोपहर के बाद धूप कम होते ही मतदाता एकबार फिर मतदान केंद्रों पर पहुंचे और उन्होंने अपने वोट डाले।

छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि सुबह सात बजे से प्रारंभ मतदान का कार्य शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। प्रारंभ में कुछ मतदान केंद्रों में ईवीएम खराब होने की सूचना मिली थी, जिसे बाद में दुरुस्त करा दिया गया।

उन्होंने बताया कि अंतिम सूचना मिलने तक इन तीनों लोकसभा क्षेत्रों में 71.09 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। सर्वाधिक 72.37 प्रतिशत मतदान कांकेर में, जबकि सबसे कम 68.26 प्रतिशत मतदान महासमुंद में हुआ। वहीं वीआईपी सीट मानी जा रही राजनांदगांव में 71.76 प्रतिशत वोटिंग हुई। अधिकारी के मुताबिक इस आंकड़े में अभी बदलाव हो सकता है, क्योंकि मतदान के अंतिम आंकड़े आने अभी बाकी हैं।

चुनाव अधिकारी ने बताया कि इस चुनाव में राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र के डोंगरगांव विधानसभा क्षेत्र में मतदान केन्द्र 76 में नई नवेली दुल्हन अपने ससुराल जाने से पहले अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं महासमुंद लोकसभा के अंतर्गत धमतरी विधानसभा में दुल्हा ने बारात निकलने से पहले मतदान किया।

मोहला मानपुर क्षेत्रों में नक्सली आईईडी ब्लास्ट को छोड़कर कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। कांकेर संसदीय क्षेत्र के अंतागढ़ में एक मतदान कर्मी की हाई अटैक से मौत हो गई। मतदान कर्मी सुकलूराम अंतागढ़ के बूथ क्रमांक 186 में चुनावी ड्यूटी पर तैनात था।

इन तीनों लोकसभा सीटों पर कुल 36 उम्मीदवार चुनावी मैदान में अपना भाग्य आजमा रहे हैं, जिसमें भाजपा के मोहन मंडावी का मुकाबला कांकेर सीट पर कांग्रेस वीरेश ठाकुर से है, जबकि महासमुंद सीट पर भाजपा के चुन्नीलाल साहू कांग्रेस के धनेन्द्र साहू को चुनौती दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ की वीआईपी सीट राजनांदगांव से भाजपा के संतोष पांडेय और कांग्रेस के प्रत्याशी भोलाराम साहू उम्मीदवार हैं।

इस चरण के मतदान को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। सभी मतदान केंद्रों पर अर्धसैनिक बल और जिला सैन्य बल की तैनाती की गई थी। सुरक्षा के मद्देनजर 5 विधानसभा क्षेत्रों और बिन्द्रानवागढ़ के 6 मतदान केन्द्रों में तीन बजे तक ही वोट डाले गए।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों के लिए तीन चरणों में मतदान होना है। पहले चरण में 11 अप्रैल को एक लोकसभा सीटों के लिए मतदान संपन्न हो चुका है। छत्तीसगढ़ में भाजपा और कांग्रेस में सीधा मुकाबला माना जा रहा है। बतादें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने यहां 11 लोकसभा सीटों में 10 सीटों पर जीत दर्ज की थी।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned