सीएम की शपथ के साथ ही बदले कई सरकारी विभागों के चेहरे

भारतीय पुलिस सेवा से 1988 बैच के अफसर को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो और आर्थिक अपराध अनुसंधान विंग के महानिदेशक पद से हटा दिया गया है

By: Deepak Sahu

Published: 18 Dec 2018, 10:22 AM IST

रायपुर. भारतीय पुलिस सेवा से 1988 बैच के अफसर मुकेश गुप्ता को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो और आर्थिक अपराध अनुसंधान विंग के महानिदेशक पद से हटा दिया गया है। गुप्ता को पुलिस मुख्यालय में विशेष पुलिस महानिदेशक को ओहदा मिला है। उनकी जगह पर 1986 बैच के आइपीए दुर्गेश माधव अवस्थी को एसीबी और ईओडब्ल्यू के महानिदेशक की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। अवस्थी के पास विशेष महानिदेशक नक्सल ऑपरेशन, एसआइबी और पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन के एमडी की जिम्मेदारी बनी रहेगी।

खुफिया शाखा में भी बदलाव
1988 बैच के आइपीएस संजय पिल्लै को गुप्त वार्ता का विशेष महानिदेशक बनाया गया है। उनके पास पहले पुलिस प्रशिक्षण और छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल, एसटीएफ और प्रशासन के महानिदेशक की जिम्मेदारी थी।

1989 बैच के आइपीएस अशोक जुनेजा को गुप्त वार्ता के अतिरिक्त महानिदेशक पद से पुलिस प्रशिक्षण, छसबल, एसटीएफ और प्रशासन के अतिरिक्त महानिदेशक की जिम्मेदारी पर बिठाया गया है।

सीएम सचिवालय में चेहरे बदले
गौरव द्विवेदी को मुख्यमंत्री का सचिव बनाया गया है। 1995 बैच के आइएएस द्विवेदी के पास जनसंपर्क, स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव और माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष का प्रभार रहेगा।

प्रवीण शुक्ला (उद्योग विभाग में कार्यरत ) को मुख्यमंत्री सचिवालय में विशेष कत्र्तव्यस्थ अधिकारी की जिम्मेदारी
मिली है।

टीएस सोनवानी (सरगुजा संभाग के आयुक्त) को मुख्यमंत्री का विशेष सचिव बनाया गया। उनकी जगह बिलासपुर आयुक्त त्रिलोकचंद्र महावर को सरगुजा की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है।

जनसंपर्क में नया आयुक्त
नई सरकार ने आइएएस तारण प्रकाश सिन्हा को जनसंपर्क विभाग का आयुक्त सह संचालक बनाया है।

विशेष सचिव और आयुक्त की जिम्मेदारी संभाल रहे अन्बलगन पी लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग संभालेंगे।

जनसंपर्क संचालक रहे चंद्रकांत उइके को अब आबकारी विभाग में संयुक्त सचिव और संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग का संचालक बना दिया गया है।

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned