आमानाका थाना हुआ हाईटेक, अब इन दो थानों को भी बनाया जाएगा आधुनिक

- कोतवाली थाना भवन अंग्रेज जमाने में बना हुआ था, कुछ दिनों पहले इस थाना भवन को ध्वस्त करने के बाद अब अस्थाई तौर पर कोतवाली थाने का संचालन रंग मंदिर में किया जा रहा है।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 27 Oct 2020, 09:38 PM IST

रायपुर। काफी इंतज़ार के बाद छत्तीसगढ़ के थानों में भी हाई- टेक व्यवथा होनी शुरू हो गयी है। रायपुर में कानून व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए नए-नए प्रयोग किए जा रहे हैं, स्मार्ट पुलिसिंग के तहत आमानाका पुलिस थाना को नए हाईटेक भवन के लोकार्पण के बाद शिफ्ट कर दिया गया है। राजधानी के तेलीबांधा थाना और कोतवाली थाना को भी हाईटेक बनाने की कवायद शुरू हो गई है। इसके लिए 5 करोड़ रुपए स्वीकृत हुए हैं। कोतवाली थाना भवन अंग्रेज जमाने में बना हुआ था, कुछ दिनों पहले इस थाना भवन को ध्वस्त करने के बाद अब अस्थाई तौर पर कोतवाली थाने का संचालन रंग मंदिर में किया जा रहा है।

राजधानी में तीन हाईटेक थाना भवन बनाए जाने थे, जिसमें पिछले साल लगभग दो करोड़ की लागत से आमानाका थाना भवन को हाईटेक बनाया गया है। वहीं राजधानी के तेलीबांधा और कोतवाली थाना को भी हाईटेक थाना भवन बनाया जाएगा। इन नए हाईटेक थाना भवन में सुपर टीआई फार्मूला के तहत दो थानेदारों को पदस्थ कर नए प्रयोग की शुरुआत की जाएगी। पुलिस मुख्यालय से भी इसकी सहमति बन चुकी है। थानों के कामकाज का बंटवारा होने से व्यवस्था में कसावट भी आएगी और मदद भी मिलेगी। राजधानी के कोतवाली थाने को भी अस्थाई संचालन रंग मंदिर में किया जा रहा है। पुलिस के बड़े अधिकारी इस रंग मंदिर में किसी तरह की परेशानी से साफ इंकार कर रहे हैं, उनका कहना है कि इसका पहले ही प्रचार-प्रसार किया जा चुका है।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned