पुलिस के पास पहुंचा माओवादी, बोला- साथी मुझे जनअदालत लगाकर मारना चाहते थे

- माओवादियों की कंपनी नंबर 7 का सदस्य था सन्नू

 

By: ramdayal sao

Published: 01 Mar 2020, 06:33 PM IST

raipur/ जगदलपुर. माओवादियों की कंपनी नंबर 7 का सदस्य सन्नू संगठन छोडकऱ मुख्यधारा में शामिल होना चाहता था। लेकिन इससे पहले ही माओवादियों को इसकी भनक लग गई। यही वजह रही कि माओवादियों ने सन्नू को पहले तो जमकर पीटा फिर जन अदालत लगाकर उसकी हत्या करना चाहते थे। लेकिन सन्नू माओवादी चंगुल से भाग निकला और सीधे बीजापुर पुलिस के पास पहुंचकर आपबीती बताई। सन्नू ने बताया कि वह माओवादियों के लिए लंबे समय से काम कर रहा था।

लेकिन संगठन में शुरू से ही स्थानीय लोगों का शोषण होता है। इसका जब उसे एहसास हुआ तो वह मुख्यधारा में शामिल होने का प्लान बना रहा था। लेकिन इस बीच माओवादी संगठन को इसकी भनक लग गई। इसके बाद उसे पकड़ लिया गया और दो दिनों तक पूछताछ के नाम पर पिटाई की गई। इस बीच उसे पता चला कि जनअदालत लगाकर उसकी हत्या करना चाह रहे हैं, तब उसने हिम्मत जुटाई और वहां से भाग निकला। पुलिस ने घायल अवस्था में उसे देखकर सबसे पहले अस्पताल में भर्ती कराया।

जहां उसका प्राथमिक उपचार शुरू हुआ। पुलिस अब उससे पूछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक सन्नू बीजापुर जिले में हुई घटना का आरोपी है और उसके खिलाफ कई थानों में नामजद रिपोर्ट भी दर्ज है। बीजापुर एसपी दिव्यांग पटेल ने कहा कि जो भी पीडि़त हमारे पास आएगा उसे पूरी तरह सुरक्षा दी जाएगी। माओवादी विचारधारा से लोगों का मोहभंग हो रहा है।

ramdayal sao Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned