स्वास्थ्य मंत्री व केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह की प्रतिष्ठा पर लगी दांव,एमबीबीएस के 250 सीटों के लगी रोक

स्वास्थ्य मंत्री व केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह की प्रतिष्ठा पर लगी दांव,एमबीबीएस के 250 सीटों के लगी रोक

Deepak Sahu | Updated: 04 Jun 2019, 10:14:00 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

* अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज की सीट बचाने दिल्ली की दौड़ लगा रहे अधिकारी

* एक सरकारी और एक प्राइवेट कॉलेज की 250 सीटों पर इस साल असर

रायपुर। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI) की गवर्निंग बॉडी ने इस साल अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज सहित निजी क्षेत्र के चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज को जीरो ईयर घोषित कर दिया है। दोनों कॉलेजों में प्रवेश पर लगी रोक से राज्य की 250 एमबीबीएस (MBBS) सीटों पर असर पड़ेगा।

अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज (Ambikapur Medical College) से राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (TS Singhdev) और केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह (Renuka singh) की भी प्रतिष्ठा जुड़ी हुई है। इस वजह से एमसीआई से एडमिशन की अनुमति लेने के लिए अधिकारी दिल्ली की दौड़ लगा रहे हैं। एमसीआई (Medical Council of India) के समक्ष अपना पक्ष रखने के लिए जहां चिकित्सा शिक्षा के संचालक और अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज के डीन दिल्ली जा चुके हैं, वहीं स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह से भी टेलीफोन पर इसे लेकर चर्चा की है।

एमसीआई ने कुछ महीने पहले राज्य के पांचों मेडिकल कॉलेजों का निरीक्षण किया था। इस दौरान सभी मेडिकल कॉलेज में कई अनियमितताएं सामने आई थीं। एमसीआई ने डीएमई सहित सभी मेडिकल कॉलेजों के डीन को दिल्ली बुलाया था। सभी ने निर्धारित मापदंडों को पूरा करने का आश्वासन दिया। उसके बाद एमसीआई ने अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज को एडमिशन के लिए अनुमति नहीं दी।

दिल्ली जाकर अपना पक्ष रखे हैं
चिकित्सा शिक्षा के संचालक डॉ. एसएल आदिले का कहना है - अंबिकापुर को जीरो ईयर कैसे घोषित कर दिया गया, यह समझ से परे है। इसके लिए उच्च स्तर पर बातचीत चल रही है। हमने दिल्ली जाकर अपना पक्ष भी रखा है। आशा है प्रवेश तिथि के पहले ही एमसीआई से हमें अनुमति मिल जाएगी।

एडमिशन की अनुमति जल्द मिल जाएगी
अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. विष्णु दत्त का कहना है - स्टाफ और भवन की कमी का मुद्दा एमसीआई(MCI) (Medical Council of India) ने उठाया था। हमने सभी मापदंडों को पूरा करने का आश्वासन भी दिया था। अनुमति के लिए प्रयास जारी है। आशा है हमें एडमिशन की अनुमति जल्द मिल जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned