scriptMitanin reached the protest site with Madiya page and ration | माडिया पेज व राशन के साथ धरनास्थल पहुंचीं मितानिनें | Patrika News

माडिया पेज व राशन के साथ धरनास्थल पहुंचीं मितानिनें

- जान जोखिम में डालकर करते है काम
- स्थानीय जनप्रतिनिधि सिर्फ आश्वासन देते है
- 28 होने होने वाली रैली स्थगित

रायपुर

Updated: April 27, 2022 06:45:51 am

दिनेश यदु @ रायपुर. अपने पांच सूत्री मांग को लेकर पिछले 26 दिनों से प्रदेश स्वास्थ्य मितानिन संघ के बैनर (State Health Mitanin Sangh) तले बूढ़ातालाब धरना स्थल (Budha Talab picket site) में प्रदर्शन कर रहे हैं। अपनी मांगों को लेकर रोजाना हर जिले की मितानिनें सुबह से पहुंचती हैं। मंगलवार को सुबह दंतेवाड़ा जिले के गीदम, कटे कल्याण व बचेली से करीब एक हजार से ज्यादा मितानिनें धरना प्रदर्शन करने पहुंची। वे अपने साथ बस्तर का माडि़या पेज (Bastar ka madiya page) व खाने बनाने के लिए बर्तन व राशन के साथ पहुंचे। करीब सुबह 7 बजे सभी महिलाएं अपने साथ लाए मडि़या पेज को परसा पत्ते का दोना बनाकर पीते नजर आए। इसके बाद उनका प्रदर्शन शुरू हुआ।
जान जोखिम में डालकर करते हैं काम
कुवाकोंडा ब्लॉक की सरिता नायक ने बताया कि हमारा जिला चारों तरफ जंगल-पहाड़ों से घिरे होने के साथ-साथ घोर नक्सल क्षेत्र भी है। हम शासन की घर योजना को लोगो तक पहुचाने के लिए कई किलोमीटर तक पैदल जाते तो है, पर हमे वहा पर नक्सली काम करने नही देते हैं। कई बार मारपीट भी करते हैं। कटे कल्याण की सायरा बानो ने बताया हम अपनी मांग को लेकर स्थानीय विधायक व जनप्रतिनिधियों के पास जाते है, पर सब यही कहते हैं, आपकी बात को मुख्यमंत्री के समक्ष रखने की आश्वासन देते हैं।
मडि़या पेज व राशन लेकर धरनास्थल पहुंचीं  मितानिनें
Mitanin reached the protest site with Madiya page and ration,Mitanin reached the protest site with Madiya page and ration,Mitanin reached the protest site with Madiya page and ration
28 को होने वाली रैली स्थगित
संघ की प्रदेशाध्यक्ष सरोज सेंगर ने बताया कि हमारा धरना लगातार जारी रहेगा, हमने 28 अप्रैल को पूरे प्रदेश भर की मितानिनें आकर रैली करने वाले थे। उसे स्थगित कर दिया गया है।
मडि़या पेज
दंतेवाड़ा की मितानिन ज्योति यादव ने बताया कि बस्तर क्षेत्र में सुबह से ग्रामीण जंगल में चले जाते हैं, पर कहीं पानी मिलता है तो कहीं नहीं मिलता है। शरीर में पानी की कमी को मडि़या पेज से पूरी करते हैं। मडि़या पेज प्यास बुझाने के साथ-साथ स्वास्थ्यवर्धक पेय है। मडिया के आटे को रात में भीगा कर रख देते हैं। उसके बाद सुबह पानी में चावल डालकर पकाते हैं। चावल पकने पर मंडिया के घोल को उसमें डालकर पीते हैं। इससे शरीर को ठंडक मिलती है और भूख भी शांत होती है।
यह भी पढ़ें - समाज के अपमान से बचने के लिए करना पड़ा दूसरी शादी, आयोग ने लगाई फटकार
यह भी पढ़ें - हाथियों और रेत खनन ने कलिंदर की खेती की बर्बाद
यह भी पढ़ें - दिल्ली में प्रदेश की बात नहीं रख पाते हमारे नेता, हम पर बनाते हैं दबाव
यह भी पढ़ें - हमर छत्तीसगढ़ में विरासतों का भंडार, फिर भी विश्व धरोहर में शामिल नहीं
मडि़या पेज व राशन लेकर धरनास्थल पहुंचीं मितानिनें
IMAGE CREDIT: Dinesh Yadu @ Patrika Raipur

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितBy-Elections 2022: तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजे आजTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा है
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.