10 जून को छत्तीसगढ़ में दस्तक देगा मानसून, अगले 24 घंटे में भी कई जगहों पर अंधड़ के साथ होगी तेज बारिश

मानसून 10 जून तक बस्तर और 5 जून तक रायपुर में पहुंच जाएगा। वर्तमान में मानसून 1 जून तक केरल में पहुंचने का पूर्वानुमान है।

By: Bhawna Chaudhary

Updated: 01 Jun 2020, 08:39 AM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ में प्री-मानसून ने दस्तक दे दी है। रविवार रायपुर, सरगुजा और बस्तर संभाग के अधिकांश जिलों में अच्छी बारिश हुई। अगर, सिस्टम को इसी प्रकार का अनुकूल परिस्थियां मिली तो पूर्वानुमान है कि मानसून 10 जून तक बस्तर और 5 जून तक रायपुर में पहुंच जाएगा। वर्तमान में मानसून 1 जून तक केरल में पहुंचने का पूर्वानुमान है।

मौसम वैज्ञानी एचपी चंद्रा के मुताबिक इस बार मानसून अपने निर्धारित समय से आ रहा है। राइवर को एक चक्रीय चक्रवाती घेरा मध्य छत्तीसगढ़ के ऊपर 2.1 किमी की द्रोणिका दक्षिण पूर्व राजस्थान से मध्य छत्तीसगढ़ तक 0.9 किमी उचांई पर रही। एक अन्य द्रोणिका मध्य छत्तीसगढ़ से लक्ष्यदीप तक 0.9 किमी ऊंचाई पर रही। एक अन्य द्रोणिका मध्य छत्तीसगढ़ से लक्ष्यदीप तक 0.9 किमी की ऊंचाई पर रही। इन तीनों के चलते प्रदेश में अच्छी बारिश हुई।

अगले 24 घंटे में ऐसा रहेगा मौसम
1 जून को भी प्रदेश के कुछ स्थानों पर बारिश का पूर्वानुमान है। कई जगहों पर तो गरज-चमक भी होगी। प्रदेश के सभी संभागों में अंधड़ चलने का भी पूर्वानुमान जारी किया है। राइवर को हुई बारिश से तापमान में गिरावट आई है। तापमान में उतार-चढाव बना रहेगा।

रविवार को कोरबा, जांजगीर चांपा में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। राखड़ डैम के आसपास के कई इलाकों में खासा प्रभाव देखने को मिला। बिजली गिरने से कोसा बाड़ी में आग लगने से सब कुछ जलकर राख हो गया। कई स्थानों पर तेज हवाएं भी चली। गौरतलब है कि दुर्ग, बिलासपुर और रायपुर संभाग जिले का तापमान 45-46 डिग्री के बीच रहा। मौसम वैज्ञानी एचपी चंद्रा के मुताबिक नौतपा ज्योतिषी द्वारा किया जाता है, इसका मौसम विज्ञानं से संबंध नहीं है। प्रदेश में हर साल नौतपा के चार दिन ही गर्मी पड़ती है।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned