ढाई साल से बे्रन हेमरेज में बेटे के इलाज के लिए चेक मिला तो मां के आंखों से आंसू छलक गए

- मुख्यमंत्री बघेल की पहल पर आवेदन के 24 घंटे में इलाज के लिए एक लाख रुपए की सहायता राशि मां को मिली .
- कलेक्टर ने दिया सहायता राशि का चेक .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 27 Nov 2020, 08:10 PM IST

बिलासपुर. सड़क दुर्घटना में बे्रन हेमरेज के शिकार अविवाहित बेटे के इलाज के लिए विधवा मां भगवती यादव को एक लाख रुपए का चेक मिला तो उसके आंखों से आंसू छलक गए । कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने महिला को ढांढस बंधाया की जय यादव ठीक हो जाएगा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर भगवती यादव को बेटे के इलाज के लिए आवेदन देने के २४ घंटे के भीतर एक लाख रुपए की सहायता राशि बिलासपुर रेडक्रास सोसायटी की तरफ से कलेक्टर ने गुरुवार को कलेक्टोरेट में दी ।

जिले के विकासखंड तखतपुर निवासी भगवती यादव ने बताया कि ढाई वर्ष पूर्व उनके बेटे जय यादव को सड़क दुर्घटना के कारण ब्रेन हेमरेज हो गया। भगवती यादव की पारिवारिक स्थिति अच्छी नहीं है। उनके बेटे की आय से ही परिवार का खर्च चलता था लेकिन दुर्घटना के बाद परिवार की माली हालत और खराब होती गई। भगवती के सामने अब परिवार चलाने के साथ ही बेटे का इलाज करवाना भी एक समस्या थी। उन्होंने जहां से भी संभव हो सकता था वहां आर्थिक मदद के लिए गुहार लगाई लेकिन उनकी समस्या का समाधान नहीं हो सका।

24 घंटे में सहायता
मुख्यमंत्री को आर्थिक सहायता के लिए निवेदन करने की सलाह किसी ने भगवती यादव को दी। महिला ने बेटे के इलाज के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पास सहायता के लिए अर्जी दी। मुख्यमंत्री ने इस प्रकरण को गंभीरता से लेेते हुए कलेक्टर को भगवती यादव को त्वरित सहायता प्रदान करने निर्देश दिए। आवेदन करने के मात्र 24 घंटे के भीतर महिला को कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर ने रेडक्रास सोसायटी के माध्यम से 1 लाख रुपए का चेक गुरुवार को प्रदान किया ।

छलक गए आंसू
भगवती यादव को जब चेक मिला तो उसके आंखों से आंसू छलक गए। भाव-विभोर होते हुए वह बताती है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की संवेदनशीलता के चलते ही यह आर्थिक सहायता संभव हो पाई है। उन्होंने इस सहायता के लिए मुख्यमंत्री का हृदय से आभार व्यक्त किया।

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned