कस्टमर ने किया कमेंट, रोड छाप चश्मे का इतना ज्यादा रेट, भड़के दुकानदार ने ग्राहक का कर दिया कत्ल

- एएसपी कार्यालय से महज 10 कदम की दूरी पर हुई (Murder in Raipur) घटना
- अपराधियों के अंदर से पुलिस का खौफ खत्म
- चाकू लेकर दुकान में बैठ रहे आरोपी

By: Ashish Gupta

Published: 14 Oct 2020, 03:11 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में हत्या (Murder in Raipur) का एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां कस्टमर ने खरीदारी करते समय सामान पर कमेंट किया तो दुकानदार तो इस कदर गुस्सा आ गया उसने ग्राहक की चाकू से हमला कर हत्या कर दी। हालांकि घटना के बाद 2 आरोपियों ने सरेंडर कर दिया।

दरअसल, यह घटना सोमवार को राजधानी के जयस्तंभ चौक की है, जहां फुटपाथ पर चश्मा दुकान लगाने वाले आदतन अपराधियों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए और कुछ घंटों बाद बड़े ही नाटकीय ढंग से 2 आरोपियों ने खुद पुलिस अधिकारियों के पास पहुंचकर सरेंडर कर दिया। घटना एएसपी कार्यालय से महज 10 कदम की दूरी पर हुई। चाकूबाजी की घटना में पुलिस दो आरोपियों द्वारा वारदात करने की बात कह रही है, लेकिन प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो घटना में 4 लोग शामिल थे।

नवरात्रि से पहले कोलकाता जाने वाले रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, पुणे से चलेगी ये स्पेशल ट्रेन

यह है पूरा मामला
सोमवार को कोंडागांव निवासी इरशाद अहमद अपने चार दोस्तों के साथ कार से इलेक्ट्रॉनिक के सामान की खरीददारी करने रायपुर आए थे। सोमवार की शाम चारों मालवीय रोड से गोलबाजार की तरफ से जयस्तंभ चौक जा रहे थे। चौक में सिग्नल बंद होने की वजह से पोस्ट ऑफिस कार्यालय के बाहर चश्मा दुकान लगाने वाले युवकों से चश्मे का दाम पूछा।

चश्मा दुकान में खड़े मोहसिन अली और शफीक अली ने चश्मे का रेट 700 रुपए बताया, तो इरशाद ने रोड छाप चश्मे का ज्यादा पैसा लगाने की बात कही और आगे बढ़ गया। इरशाद की इस बात से नाराज होकर मोहसिन और शफीक उसकी तरफ दौड़े और कार का कांच पीटने लगे। इरशाद बात करने के लिए नीचे उतरा, इस दौरान मोहसिन ने पास में रखा चाकू से उसके पेट में वार कर दिया। हमले पर इरशाद की अंतडिय़ां बाहर आ गई और आंबेडकर अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

राजधानी में ड्रग कनेक्शन बेनकाब: पत्नी आयोजित करती थी पार्टी और उसमें पति बेचता था कोकिन

पूर्व में भी कर चुके वारदात
पुलिस अधिकारियों की मानें तो इरशाद पर हमला करने वाले आरोपी पूर्व में राजा तालाब इलाके में चाकूबाजी की घटना को अंजाम दे चुके हैं। सिविल लाइन पुलिस को आरोपियों के बारे में सूचना मिली थी। शहर की सड़कों पर कितने अपराधी प्रवृत्ति के लोग कारोबार करते हैं, इस बात की जानकारी घटना के बाद भी पुलिस ने नहीं जुटाई है। इस वजह से आरोपियों के अंदर से पुलिस का खौफ बिल्कुल खत्म हो गया है।

रायपुर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लखन पटले ने कहा, चाकूबाजी की वारदात को अंजाम देने वाले दोनों आरोपियों ने पुलिस की सख्ती के बाद सरेंडर किया है। आरोपियों की पहचान मजिस्ट्रेट के सामने कराई गई है। वारदात में दो ही आरोपी शामिल थे।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned