राष्ट्रीय तीरंदाजी मेयर कप- छत्तीसगढ़ की सुलोचना ने स्वर्ण पर साधा निशाना

राष्ट्रीय तीरंदाजी मेयर कप में छत्तीसगढ़ की सुलोचना राज ने स्वर्णिम प्रदर्शन किया है। सुलोचना ने बालिका अंडर-१४ इंडियन राउंड में ओवरऑल प्रदर्शन में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

By: Dinesh Kumar

Published: 15 Nov 2018, 06:25 PM IST

राष्ट्रीय तीरंदाजी मेयर कप

छत्तीसगढ़ की सुलोचना ने स्वर्ण पर साधा निशाना

 

रायपुर. राष्ट्रीय तीरंदाजी मेयर कप में छत्तीसगढ़ की सुलोचना राज ने स्वर्णिम प्रदर्शन किया है। सुलोचना ने बालिका अंडर-१४ इंडियन राउंड में ओवरऑल प्रदर्शन में स्वर्ण पदक अपने नाम किया। नागपुर में आयोजित इस स्पर्धा में प्रदेश की बालिका खिलाड़ी ने ३०मी. इवेंट में २६६ अंक प्राप्तकर तीसरा व २०मी. इंडियन राउंड इवेंट में ३३८ अंक हासिलकर प्रथम स्थान प्राप्त किया है। उसने कुल ६०४ अंक हासिलकर ओवरऑल प्रदर्शन में अव्वल स्थान प्राप्त किया और स्वर्ण पदक अपने नाम करने में सफल रहीं। वहीं, प्रदेश के अमन ध्रुव ने २०मी. इवेंट में तीसरा प्राप्त किया, लेकिन ओवरऑल प्रदर्शन में अमन चौथे स्थान पर रहे और वे पदक जीतने से चूक गए। इससे पहले सोमवार को विक्रम राज ने इंडियन राउंड में कांस्य पदक जीतकर प्रदेश को पहला पदक दिलाया था। प्रदेश के खिलाडिय़ों के पदक जीतने पर छत्तीसगढ़ तीरंदाजी संघ के पदाधिकारियों ने बधाई दी है।

संसाधन के कारण पिछड़ रहे प्रदेश के खिलाड़ी

छत्तीसगढ़ के तीरंदाज राष्ट्रीय स्पर्धा में इंडियन राउंड में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और लगातार पदक जीत रहे हैं। लेकिन रिकर्व और कम्पाउंड इवेंट में प्रदेश के खिलाड़ी संसाधन न होने के कारण पिछड़ रहे हैं और पदक जीतने से चूक रहे हैं। रिकर्व और कम्पाउंड के इक्प्यूमेंट काफी महंगे होते हैं।

खेल विभाग में नहीं हो रही सुनवाई
छत्तीसगढ़ तीरंदाजी संघ के सचिव कैलाश मुरारका ने बताया कि उन्होंने कई बार खेल विभाग से खिलाडिय़ों के लिए रिकर्व और कम्पाउंड के संसाधन की मांग रखी है, लेकिन विभाग में कोई सुनवाई नहीं हो रही है। रिकर्व व कम्पाउंड के धनुष व तीर महंगे होने के कारण प्रदेश के गरीब खिलाड़ी उन्हें स्वयं खरीदने में असमर्थ हैं। संसाधन की कमी के बावजूद प्रदेश के खिलाड़ी राष्ट्रीय स्पर्धाओं में लगातार पदक जीत रहे हैं। इस वर्ष भी खेल विभाग से कई बार संघ ने संसाधन की मांग कर चुका है। राष्ट्रीय खेलों की तैयारी के लिए भी विभाग की ओर से संसाधन उपलब्ध कराने की कोई पहल अब तक नहीं हुई है।

Dinesh Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned