प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के निर्माणाधीन कार्यों के परीक्षण के लिए राष्ट्रीय गुणवत्ता समीक्षकों का छत्तीसगढ़ दौरा

छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में निर्मित सड़कों की हालत बेहद खराब है। सड़क में बने गड्ढों में पानी भर जाने के कारण सड़क पूरी तरह से जर्जर हो गई हैं और लोगों को आवागमन में भारी दिक्कत का सामना करना पड ़ रहा है। स्थानीय अधिकारी इस मामले में किसी प्रकार की ऐसी कार्यवाही नहीं कर रहे हैं कि प्रभावित क्षेत्र के लोगों को न्याय मिले।

By: Shiv Singh

Published: 13 Oct 2021, 06:32 PM IST

रायपुर. प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के निर्माणाधीन कार्यों में तृतीय स्तर के गुणवत्ता परीक्षण के लिए राष्ट्रीय गुणवत्ता समीक्षक छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। वे प्रदेश के दस जिलों का दौरा कर प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत निर्माणाधीन सड़कों का परीक्षण करेंगे। संबंधित जिले के राष्ट्रीय गुणवत्ता समीक्षक से उनके मोबाइल नंबर पर संपर्क कर प्रगतिरत सड़कों की गुणवत्ता के संबंध में शिकायत साझा की जा सकती है।

राष्ट्रीय गुणवत्ता समीक्षक दिलीप कुमार (मोबाइल नम्बर 9918857356) 17 अक्टूबर से नारायणपुर जिले में और 23 अक्टूबर से बीजापुर जिले में सड़कों की गुणवत्ता का परीक्षण करेंगे। अनिल कुमार बिहार (मोबाइल नम्बर 7903753767) 18 अक्टूबर से रायगढ़ में और 25 अक्टूबर से जशपुर में सड़कों की गुणवत्ता जांचेंगे। राम प्रकाश सिंह (मोबाइल नम्बर 9415258582) 19 अक्टूबर से बस्तर में और 26 अक्टूबर से दंतेवाड़ा में सड़कों की गुणवत्ता की समीक्षा करेंगे। पी.आर. साजीकुमार (मोबाइल नम्बर 9447333751) 19 अक्टूबर से बिलासपुर में और 25 अक्टूबर से जांजगीर-चांपा में सड़कों की गुणवत्ता जांचेंगे। ललित कुमार (मोबाइल नम्बर 9818690824) 18 अक्टूबर से दुर्ग में और 25 अक्टूबर से धमतरी जिले में सड़कों की गुणवत्ता की समीक्षा करेंगे।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned