कोरोना के चलते सादगी से मनाई जाएगी नवरात्रि, नियमों के पालन के साथ देवी मंदिरों में होगी पूजा

कोरोना संकट (Corona Virus) के साये के बीच शक्ति उपासना का पर्व मनेगा। घरों से लेकर देवी मंदिरों तक भक्तिमय माहौल तो रहेगा, लेकिन पाबंदियों के साथ माता की चौकी सज गई।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 17 Oct 2020, 01:04 PM IST

रायपुर . कोरोना संकट (Corona Virus) के साये के बीच शक्ति उपासना का पर्व मनेगा। घरों से लेकर देवी मंदिरों तक भक्तिमय माहौल तो रहेगा, लेकिन पाबंदियों के साथ माता की चौकी सज गई। मनोकामना ज्योत (Manokamna Jyot) कलश भी जगमग होंगे। परंतु भक्त जैसा पहले जैसा पूजा उत्सव नहीं मना पाएंगे। चढ़ावा परात में रखना होगा और पुजारी चरणामृत प्रसाद भी नहीं देंगे।

पूजा पंडाल गिनती के शहर में जहां 5 से 6 हजार जगहों पर दुर्गोत्सव मनता था तो इस बार वह 200 से 300 तक सीमित हो गया। क्योंकि नगर निगम के 10 जोनों में कहीं 10 तो कहीं 15 से 20 आवेदनों को मंजूरी दिया है, जिन्होंने शपथ पत्र देकर पूरी जिम्मेदारी ली है।

प्राचीन महामाया मंदिर के पंडित मनोज शुक्ला के अनुसार हर नवरात्रि में 11 हजार ज्योत जलती थी। इस बार केवल 5165 त्योत जो चैत्र नवरात्रि के समय की। प्राचीन महामाया मंदिर के दरबार से प्रवासी भारतीयों की गहरी आस्था जुड़ी है।

नौ दिनों में तीन सर्वार्थ सिद्धि योग
नवरात्रि पर्व के नौ दिनों में पांच विशेष संयोग बन रहा हैं पंडित मनोज शुक्ला के अनुसार शक्तिउपासना का प्रारंभ सर्वार्थ सिद्धि योग के साथ हो रहा है। शनिवार दिन होने से मां दुर्गा घोड़े पर सवार आ रही हैं और भैंस पर सवार होकर विदा होंगी। फिर 18 अक्टूबर को त्रिपुष्कर योग, 19 अक्टूबर को भी सर्वार्थ सिद्धि योग, 20 अक्टूबर को रवि योग और 24 अक्टूबर दुर्गा अष्टमी तिथि पर भी सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा, जो कभी-कभार भी बनता है।

सख्त गाइडलाइन के पांच प्रमुख बिंदु

दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी का पालन करना होगा

जगराता, डांडिया, रास गरबा, भोग-भंडारा नहीं होगा दुर्गा समितियों और देवी मंदिर समितियों की पूरी जिम्मेदारी होगी

भक्तों के संक्रमित होने पर इलाज का पूरा खर्चा उन्हें उठाना होगा

भक्त अभिषेक पूजन और आरती में शामिल नहीं हो पाएंगे

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned