देवी पंडालों में गूंज रहा है जसगीत

देवी पंडालों में गूंज रहा है जसगीत

Chandu Nirmalkar | Publish: Oct, 13 2018 07:57:37 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 07:57:38 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

नवरात्र के पर्व में शहरवासी माता की भक्ति में लीन हो गया है। विंध्यवासनी मंदिर समेत शहर के अन्य देवी मंदिरों में रोजाना दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लग रही है। इसके अलावा दुर्गा पंडालों में भजन समेत जसगीत गूंज रहा है।

रायपुर/धमतरी. नवरात्र के पर्व में शहरवासी माता की भक्ति में लीन हो गया है। विंध्यवासनी मंदिर समेत शहर के अन्य देवी मंदिरों में रोजाना दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लग रही है। इसके अलावा दुर्गा पंडालों में भजन समेत जसगीत गूंज रहा है।

उल्लेखनीय है कि क्वांर नवरात्र को लेकर श्रद्धालुओं में उत्साह का माहौल है। शुक्रवार को देवी मंदिरों में दर्शन के लिए सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। तीसरे दिन विंध्यवासिनी, रिसाई माता मंदिर समेत अन्य देवी मंदिरों में नवदुर्गा के तीसरे स्वरूप माता चंद्रघंटा की पूजा-अर्चना की गई। मंदिर के पुजारी ने बताया कि सुबह स्नान के बाद माता को चोला चढ़ाया गया। विशेष श्रृंगार करने और पूजा-अर्चना के बाद मंदिर का पट खोला गया। श्रद्धालु अमित कुमार, जनक आडिल ने बताय कि वे दुर्ग के रहने वाले हैं। हर नवरात्र पर्व के अवसर पर माता का आशीर्वाद लेने के लिए पहुंचे हैं। गौरतलब है कि शहर के करीब 80 स्थानों पर विभिन्न दुर्गाेत्सव समिति की ओर से मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित कर अखंड ज्योति प्रज्ज्वलित किया गया है।

महापंचमी 13 को
न्यू बालकला दुर्गाेत्सव समिति के रामकुमार देवांगन ने बताया कि वार्डवासियों की खुशहाली की कामना को लेकर रोजाना शहर शाम दुर्गा सप्तशती, दुर्गा कवच का पाठ किया जा रहा है। इसके अलावा शाम होते ही जसगीत का कार्यक्रम भी हो रहा है। १३ अक्टूबर को महापंचमी मनाया जाएगा। इस अवसर पर अखंड ज्योति की विशेष पूजा-अर्चना किया जाएगा।

बच्चे भी रख रहे उपवास
उधर मनोकामना पूर्ति के लिए युवा नौ दिन तक उपवास रखकर माता की भक्ति कर रहे हैं। बच्चों में भी नवरात्र पर्व को लेकर उत्साह देखते ही बन रहा है। वे भी नौ दिन का उपवास रख रहे हैं। श्रद्धालु अखिलेश ध्रुव, कैलाश कुमार का कहना है कि नवरात्र शक्ति अर्जित करने का पर्व हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned