छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस का नया वैरिएंट एन-440 मिला

- एनसीडीसी ने राज्य को वैरिएंट के बारे में लिखित पुष्टि नहीं की
- राज्य से भेजे गए सैंपल में 5 में मिला है बदलाव

By: Ashish Gupta

Published: 02 Apr 2021, 10:56 AM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ में कोरोना का नया वैरिएंट (New Coronavirus variant) मिला है। जिसे एन-440 (N-440) नाम दिया गया है। मगर, यह वायरस कितना घातक है, इसके बारे में नेशनल सेंट्रल ऑफ डिसीज कंट्रोल (NCDC) ने अभी राज्य को कोई जानकारी नहीं दी है। कोरोना नियंत्रण कार्यक्रम के राज्य नोडल अधिकारी डॉ. धमेंद्र गहवईं ने वैरिएंट की पुष्टि जरूर की है और कहा है कि हमने बीते दिनों 200 सैंपल जांच के लिए भेजे थे। जब तक एनसीडीसी से कोई रिपोर्ट नहीं मिलती, कुछ भी कह पाना मुश्किल है। जानकारी के मुताबिक 5 सैंपल में नया वैरिएंट मिला है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के 14 जिलों में हालात गंभीर, संक्रमण दर पहुंचा 11.88 प्रतिशत

सूत्रों के मुताबिक वैरिएंट के बारे में कहा जा रहा है कि यह खासा प्रभावी है और इसकी वजह से ही छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। बताया गया है कि यह वही वैरिएंट है जो महाराष्ट्र में पाया गया है। स्पष्ट है कि छत्तीसगढ़ में महाराष्ट्र के आने वाले लोगों की संख्या बहुत है।

म्युटेशन का मतलब समझें
एम्स के निदेशक डॉ. नितिन एम. नागरकर का कहना है कि वायरस में बदलाव होता रहता है। हम इस संबंध में जांच करेंगे। म्युटेशन यानी की वायरस में बदलाव। और इसी बदलाव को वैरिएंट कहा जाता है।

यह भी पढ़ें: कोरोना ने फिर बदला रूप: अगर आपको शरीर में दिख रहे हैं लक्षण तो न बरतें लापरवाही

इसलिए वैरिएंट की आशंका
स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉ. सुभाष पांडेय का कहना है कि आज जिस प्रकार से मरीज मिल रहे है, एक से कई संक्रमित हो रहे हैं, मरीजों को स्वस्थ होने में 15 दिन तक लग रहे हैं। इससे स्पष्ट है कि मौजूदा वायरस पुराने की तुलना में ज्यादा प्रभावी है। इसलिए जनता को समझाना होगा कि हमारी हर एक लापरवाही भारी पड़ रही है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned