एम्बुलेंस की नहीं कराई जांच, 2200 अस्पतालों को नोटिस

परिवहन विभाग सख्त : 17 अगस्त तक जांच नहीं कराने पर होगा पंजीयन निरस्त.

By: Bhupesh Tripathi

Published: 03 Aug 2021, 07:35 PM IST

रायपुर . परिवहन विभाग ने एम्बुलेंस की जांच नहीं कराने वाले 2200 अस्पतालों को नोटिस जारी किया है। उन्हें स्थानीय आरटीओ और पुलिस द्वारा निर्धारित स्थान वाहनों की जांच कराने के निर्देश दिए गए है। साथ ही सूचना देने के बाद भी नहीं आने पर 93 अगस्त पर जवाब मांगा गया है। एक अंतिम मौका देते हुए 17 अगस्त को वाहनों की जांच कराने की हिदायत दी गई है। वहीं इसकी अवहेलना करने पर एम्बुलेंस का पंजीयन निरस्त करने की चेतावनी दी गई है।

बता दें कि मोटर व्हीकल एक्ट और स्वास्थ्य विभाग के नियमों को ताक पर रखकर अस्पताल संचालकों द्वारा एम्बुलेंस का संचालन किया जा रहा था। इसकी लगातार शिकायत मिलने के बाद परिवहन, पुलिस और जिला प्रशासन ने वाहनों की जांच कराने के लिए प्रदेशभर के करीब 5000 अस्पतालों को सूचना भेजी गई थी।

54 वाहनों में मिली थीं खामियां
रायपुर जिला आरटीओ में पंजीकृत करीब 300 अस्पताल संचालकों को वाहनों की जांच करने के लिए नोटिस जारी की गई थी। उन्हें 23 जुलाई को पुलिस परेड मैदान में आयोजित शिविर के दौरान वाहनों को पेश करने के निर्देश दिए गए थे। लेकिन, मात्र 89 अस्पताल संचालकों द्वारा ही एम्बुलेंस को जांच करने के लिए भेजा गया। इस दौरान 54 वाहनों में गड़बड़ी मिली थी। उन्हें वाहनों की ठीक कराने और स्वास्थ्य विभाग के नियमानुसार मेडिकल उपकरण भी रखने कहा गया था। वहीं 127 अस्पताल संचालकों को वाहन पेश नहीं करने पर दोबारा नोटिस जारी की गई है।

एम्बुलेंस की जांच कराने के लिए एक और मौका अस्पताल संचालकों को दिया गया है। इसके बाद भी वाहन सहित उपस्थिति दर्ज नहीं कराने और अनुपस्थित रहने पर पंजीयन निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी।
- दीपांशु काबरा, अपर परिवहन आयुक्त

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned