रायपुर जिले में एंटीजन किट से जांच शुरू, अब सिर्फ 30 मिनट में रिपोर्ट

स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि राजधानी में रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से गर्भवती महिलाओं, बच्चे व बुजर्ग (जो चलने में असमर्थ हैं और उनमें कोरोना के लक्षण दिख रहे हो) को जांचने में पहली प्राथमिकता दी जाएगी।

By: Karunakant Chaubey

Published: 16 Jul 2020, 06:07 PM IST

रायपुर. प्रदेश में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ रहा है। प्रदेश में अन्य जिलों की अपेक्षा रायपुर में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। यही वजह है कि राज्य सरकार लगातार ज्यादा से ज्यादा टेस्ट के जरिए संक्रमण पर नियंत्रण करने की कोशिश में जुट गई है। एक लाख रैपिड एंटीजन किट की खरीदी हुई है, जिससे जांच शुरू हो गया है और रिपोर्ट भी आने लगी है। जिला स्वास्थ्य विभाग को 6000 से ज्यादा किट मिले है, जो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भेजा जा चुका है। रायपुर जिले में विगत दो दिनों से जांच शुरू हो गई है, जिसमें 8-10 रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है।

स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि राजधानी में रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से गर्भवती महिलाओं, बच्चे व बुजर्ग (जो चलने में असमर्थ हैं और उनमें कोरोना के लक्षण दिख रहे हो) को जांचने में पहली प्राथमिकता दी जाएगी। एंटीजन टेस्ट किट के जरिए ऑन द स्पॉट जांच होती है और रिपोर्ट 15 से 30 मिनट के भीतर रिपोर्ट आ जाती है।

एक किट की कीमत 450 रुपए है। यदि कोरोना संदिग्ध का एंटीजन टेस्ट निगेटिव आता है तो उनका आरटी-पीसीआर टेस्ट किया जाएगा। रायपुर में आरटी-पीसीआर, ट्रू-नॉट और रैपिड एंटीजन किट से जांच हो रही है। हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि एंटीबॉडी, ट्रू-नॉट और एंटीजन समेत किसी भी जांच से आरटी-पीसीआर बेहतर परिणाम देती है।

कर्मचारियों को दिया गया है प्रशिक्षण

रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से जांच के लिए पैथोलॉजिस्ट, माइक्रोबायोलॉजिस्ट और लैब टेक्नीशियनों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। कुछ स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों को प्रशिक्षण पहले दिया गया था, जो बचे थे उनको शनिवार और सोमवार को दिया गया था। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि एंटीजन किट से जांच में कर्मचारी और समय दोनों कम लग रहे हैं।

रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से जिले में टेस्टिंग प्रक्रिया शुरू हो गई है। रायपुर में प्रतिदिन 900 सैंपल लेने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। एंटीजन किट से संक्रमण रोकने में काफी मदद मिलेगी।

डॉ. मीरा बघेल, सीएमएचओ, रायपुर

प्रदेश में 217433 सैंपल की जांच

प्रदेश में मंगलवार तक कोरोना वायरस के परीक्षण के लिए 217433 सैंपल जांच हो चुके थे। इसमें 4379 पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसमें 3275 मरीज डिस्चार्ज होकर अपने घर लौट चुके हैं। आरटी-पीसीआ से 202922 ट्रू-नॉट से 13201 तथा एंटीजन किट से 1302 सैंपल की जांच हुई है। रायपुर जिले में अभी तक आरटी-पीसीआर, एंटीबॉडी और ट्रू-नॉट से 18 हजार से ज्यादा सैंपल की जांच की गई है, जिसमें 841 पॉजिटिव पाए गए हैं।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned