पहली बार नर्सिंग कैलेंडर तैयार, अब हर साल 5 अगस्त को प्रवेश परीक्षा, सितंबर तक दाखिला

नर्सिंग की पढ़ाई करने वाले अभ्यर्थी क्यों मेडिकल काउंसिलिंग के खत्म होने का इंतजार करें? हम लंबे समय से इस कैलेंडर पर काम कर रहे थे, जो फाइनल हो गया है। मगर, सत्र 2022-23 से लागू होगा, तब से सबकुछ तय समय पर होगा।

By: Karunakant Chaubey

Published: 20 Sep 2021, 10:34 AM IST

रायपुर. प्रदेश में नर्सिंग पाठ्यक्रम को बढ़ावा देने और इसके प्रति अभ्यर्थियों का रूझान बढ़ाने के लिए पहली बार नर्सिंग कैलेंडर तैयार किया गया है। इसके तहत अब आने वाले हर साल में (चालू सत्र को छोड़कर) प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन से लेकर कक्षाएं लगने तक की तारीखें तय कर दी गई हैं। 5 अगस्त को प्रवेश परीक्षा का होगी, 30 सितंबर तक काउंसिलिंग (दाखिले की अंतिम तिथि) पूरी कर ली जाएगी। 1 अक्टूबर से विधिवत कक्षाएं लगनी शुरू हो जाएंगी।

छत्तीसगढ़ नर्सिंग काउंसिल मेडिकल की रजिस्ट्रार वंदना चंदसुरिया द्वारा बीते दिनों नर्सिंग काउंसिल परिषद बैठक बुलाई गई। जिसमें चिकित्सा शिक्षा संचालनालय की काउंसिलिंग समिति के अधिकारी, सरकारी कॉलेजों के प्राचार्य और छत्तीसगढ़ नर्सिंग महाविद्यालय संघ के पदाधिकारी भी शामिल हुए थे। इसका मुख्य विषय नर्सिंग कैलेंडर तैयार करना था। बैठक के बाद एक राय बनी और नतीजा यह रहा है कि जिस प्रकार मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में प्रवेश तय समय पर होता है।

रजिस्ट्रार ने 'पत्रिका' को बताया कि नर्सिंग की पढ़ाई करने वाले अभ्यर्थी क्यों मेडिकल काउंसिलिंग के खत्म होने का इंतजार करें? हम लंबे समय से इस कैलेंडर पर काम कर रहे थे, जो फाइनल हो गया है। मगर, सत्र 2022-23 से लागू होगा, तब से सबकुछ तय समय पर होगा।

सबकी जिम्मेदारियां तय- कॉलेज समय पर चिकित्सा शिक्षा संचालनालय में कॉलेज खोलने, सीट वृद्धि के लिए आवेदन करेंगे। संचालनालय से निरीक्षण के लिए टीमें गठित की जाएंगी। 1 फरवरी से 31 मई तक यह प्रक्रिया पूरी करनी होगी। नर्सिंग काउंसिल 1 से 30 जून तक अनुमति देगी।

ये भी पढ़ें: DU Admission 2021: DUET परीक्षा 26 सितंबर से शुरू होगी, जल्द जारी होंगे एडमिट कार्ड

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned