ओडीएफ की केंद्रीय टीम रायपुर पहुंची, बेहतर रैंक देने खगाल रही निगम के दस्तावेज

भारत स्वच्छता अभियान के तहत सोमवार को ओडीएफ की केंद्रीय टीम जांच करने राजधानी पहुंची।

By: Lalit Singh

Updated: 11 Sep 2017, 03:48 PM IST

Raipur, Chhattisgarh, India

रायपुर. भारत स्वच्छता अभियान के तहत सोमवार को ओडीएफ की केंद्रीय टीम जांच करने राजधानी पहुंची। टीम ने निगम में कई दस्तावेजों की जांच-पड़ताल की। चार सदस्यीय टीम ने निगम के कई वार्डों के दस्तावेजों को चेक किया। खबर लिखे जाने तक जांच-पड़ताल जारी है। टीम को लेकर निगम अधिकारी-कर्मचारी मीडिया को कोई भी जानकारी देने से बचते रहे। हालांकि इस बार संभावना जताई जा रही है कि टीम ओडीएफ को लेकर शहर को अच्छा रैंक देगी। बता दें कि रायपुर को ओडीएफ शहर घोषित करने के लिए निगम एड़ी चोटी एक कर दिया है। लगातार वार्डों में सघन अभियान चल रहा है।

कही भी खुले में शौच करते पाए जाने पर सीधे कार्रवाई की जा रही है। सजा के तौर पर लोगों को १० से १५ किलोमीटर दूर छोड़ दिया जा रहा है। इसके अलावा ऐसे लोगों पर जुर्माना भी लगाया जा रहा है। इसके बावजूद लोग नहीं मान रहे हैं। हालांकि निगम ने इसे लेकर जागरुकता अभियान छेड़ रखा है। शहर को स्वच्छ बनाए रखने के लिए सभी वार्डों में स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। लोगों को जागरूक किया जा रहा है। ज्ञात हो कि ओडीएफ में शहर का रैंक सर्वाधिक खराब होने से राष्ट्रीय पटल पर शहर की काफी किरकिरी हुई है। इसी किरकिरी से बचने के लिए निगम लगातार वार्डों में सफाई को लेकर सक्रिय है।

 

...जब महापौर ने पकड़ा था

इन सब के बावजूद अभी हाल ही में महापौर प्रमोद दुबे के मेयर आवास के पास एक व्यक्ति शौच करते पाए जाने पर खुद मेयर ने उसे दौड़ाकर पकड़ा और वहीं पर उसकी उठक-बैठक भी कराई। मेयर खुद ही इस अभियान को सफल करने में लगे हुए हैं। वार्ड के सभी पार्षदों को इस संबंध में सख्त निर्देश दिया गया है। नगर के ७० वार्डों को ओडीएफ घोषित करने निगम के पार्षद और सफाई-कर्मचारी एक किए हुए हैं। अब आने वाला समय ही बताएगा कि टीम ने सफाई को लेकर क्या अंक दिए हैं।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned