62 दिन बाद पुराने हालात लौटे, प्रदेश में मिले 856 संक्रमित

फिर से बेकाबू हो रहा कोरोना : प्रदेश में एक्टिव मरीज 4661, 24 घंटे में और 8 लोगों ने दम तोड़ा
प्रदेश की स्थिति-

कुल मरीज- 318830
एक्टिव- 4661

डिस्चार्ज- 310260
मौतें-3909

राज्यों ने संक्रमण उठाए सख्त कदम

मध्यप्रदेश- महाराष्ट्र से आने वाले 7 दिन होंगे क्वारंटाइन। राजस्थान- अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बिना दर्शकों के हो रहे। महाराष्ट्र- कई जिलों में लॉकडाउन।
रायपुर और दुर्ग में ये मुमकिन - शाम 7 से सुबह 7 बजे तक कफ्र्यू। शनिवार व रविवार नाइट कफ्र्यू। बाहर से आने वाले होंगे क्वारंटाइन।

By: ramendra singh

Published: 17 Mar 2021, 12:21 AM IST

रायपुर . प्रदेश में राज्य सरकार के हाथों से कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण तेजी से कम होता रहा है। वहीं हर दिन संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। मंगलवार को तो प्रदेश में 856 मरीज रिपोर्ट हुए। आखिरी बार इतने मरीज 11 जनवरी 2021 यानी 62 दिन पहले मिले थे। स्पष्ट है कि अब छत्तीसगढ़ 2 महीने 2 दिन पुरानी स्थिति में आ खड़ा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग और डॉक्टरों का अनुमान है कि आने वाले दिनों में हालात और भी बिगड़ सकते हैं, अगर अभी कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए तो। सबसे ज्यादा खतरा राजधानी रायपुर में मंडरा रहा है, जहां मंगलवार को सर्वाधिक 306 मरीज मिले। अब एक्टिव मरीजों की संख्या 1300 जा पहुंची है। रायपुर के बाद दुर्ग में 233 मरीज मिले, यहां भी एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 1283 पहुंच गया है। बिलासपुर, धमतरी और राजनांदगांव में भी कोरोना बढ़ रहा है। प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 4661 जा पहुंची है। कोविड19 हॉस्पिटलों में बेड फिर से भरने शुरू हो चुके हैं। आंबेडकर अस्पताल के 44 आईसीयू में 22 मरीज भर्ती हैं। उधर, स्वास्थ्य विभाग ने लालपुर कोविड19 हॉस्पिटल खोल दिया है। माना को लेकर भी निर्देश दिए गए हैं। एक तरफ मरीज बढ़ रहे हैं, तो दूसरी तरफ मौतों का आंकड़ा भी मंगलवार को 8 लोगों की मौत के बाद 3909 जा पहुंचा है। न संक्रमित रुक रहे हैं, न मौतें।

अब 100 में 2 मिल रहे संक्रमित

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले सप्ताह तक 100 में 1.6 लोग संक्रमित पाए जा रहे थे, मगर आज आंकड़ा 2 प्रतिशत के ऊपर जा पहुंचा। यह बेहद चिंताजनक है। बावजूद इसके सख्ती के नाम पर सिर्फ औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं।
मुख्यमंत्री के निर्देश के बावजूद ढिलाई जारी

सीएम भूपेश बघेल ने मंगलवार को टॅवीट के जरिए कहा था कि रोड सेफ्टी वल्र्ड क्रिकेट सीरिज में दर्शकों को बिना मास्क के स्टेडियम में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। मैच के दौरान बिना मास्क पाए जाने पर कार्रवाई होगी। उन्होंने समाज के सभी वर्गों से कोरोना नियंत्रण में सहयोग व नियमों के पालन की अपील की है। इसके बावजूद स्टेडियम में जिम्मेदारों ने मैच के दौरान बगैर मास्क वाले दर्शकों पर कोई कार्रवाई नहीं की। ज्यादातर दर्शक कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करते दिखे।

सिंहदेव ने कहा- खेल आयोजनों में जाने से परहेज करें
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा है कि सरकार की हालात पर नजर है। खेलकूद, धार्मिक और सामाजिक आयोजन जहां शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो पा रहा, वहां जाने से बचें। क्रिकेट टूर्नामेंट को उस वक्त अनुमति मिली थी। जब कम केस आ रहे थे। फिलहाल लॉकडाउन की जरूरत नहीं है। बिना दर्शकों के करवाएं जाएं मैच : भाजपानेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमितों और मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। यह चिंता का विषय है। जिन नियमों का पालन होना चाहिए, उसमें सरकार उदासीनता दिखा रही है। सरकार को तत्काल सख्त फैसले लेने चाहिए। वहीं पूर्व मंत्री और प्रदेश प्रवक्ता राजेश मूणत ने मांग की कि अहमदाबाद की तरह रायपुर में भी बिना दर्शकों के मैच करवाए जाएं।

90 कैमरे से दर्शकों पर रहेगी पुलिस की नजर

राज्य पुलिस 90 सीसीटीवी कैमरों के जरिए क्रिकेट मैच देखने वाले दर्शकों पर पैनी नजर रखेगी। इस दौरान बिना मास्क पहने हुए दिखाई देने पर 200 रुपए का चालान वसूल किया जाएगा। वहीं किसी भी तरह का विवाद करने वाले को तुरंत स्टेडियम से बाहर कर दिया जाएगा। रायपुर एसएसपी अजय यादव ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे स्टेडियम के भीतर, बाहर और आसपास के इलाकों में लगाए गए हैं। इसे स्टेडियम परिसर में बनाए गए कंट्रोल रूम के जरिए संचालित किया जा रहा है। दर्शकों से अब तक मास्क पहनने की अपील के साथ ही सख्ती से समझाइश दी जा रही है लेकिन, लगातार बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए चालानी कार्रवाई की जाएगी। जवानों के साथ ही नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग का अमला तैनात रहेगा।

अतिरिक्त अमले की तैनाती
स्टेडियम और उसके आसपास के क्षेत्रों में 1300 जवान तैनात किए गए हैं। इसमें करीब 800 जवान स्टेडियम के भीतर और 500 को यातायात और सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। वहीं लगातार बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए 200 अतिरिक्त जवानों को आज से स्टेडियम के भीतर तैनाती की गई है।

ramendra singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned