फर्जी कस्टमर केयर कर रहा ऑनलाइन फ्रॉड, दो लोगों से फिर हुई ऑनलाइन ठगी

ऑनलाइन सुविधाओं का लाभ लेने वाले अधिकांश लोग छोटी-छोटी चूक के चलते ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार हो रहे हैं। खासकर के गूगल में सक्रिय फर्जी कस्टमर केयर के झांसे में आसानी से फंस रहे हैं।

By: Ashish Gupta

Published: 20 Sep 2020, 10:52 PM IST

रायपुर. ऑनलाइन सुविधाओं का लाभ लेने वाले अधिकांश लोग छोटी-छोटी चूक के चलते ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार हो रहे हैं। खासकर के गूगल में सक्रिय फर्जी कस्टमर केयर के झांसे में आसानी से फंस रहे हैं। पंडरी और गुढिय़ारी इलाके में दो लोगों से इसी तरह ठगी हो गई। पुलिस ने दोनों मामले में अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पुलिस के मुताबिक मोवा निवासी जे पापा राव माली का काम करते हैं। 2 सितंबर को अपने मोबाइल से अपने मामा में 50 रुपए का रिचार्ज करवा रहे थे। इस दौरान उनके खाता से 50 रुपए कट गया, लेकिन मोबाइल रिचार्ज नहीं हुआ। इसके बाद उसने रिचार्ज की जानकारी लेने के लिए गूगल में सर्च करके कस्टमर केयर का नंबर निकाला। और उसमें कॉल किया। कॉल रिसीव करने वाले ने अपने सीनियर से बात करने के लिए कहा।

इसके बाद रात में पीड़ित के पास कस्टरम केयर वाले ने कॉल किया और बैंक खाते का बैलेंस पूछा। और बताया कि उसका 50 रुपए वापस उसके खाते में आ जएगा। उसने बैंक खाता नंबर नहीं बताया, तो नाम व मोबाइल नंबर पूछकर फोन पे के जरिए उसके खाते से दो बार में कुल 86 हजार 665 रुपए का आहरण कर लिया। इसकी शिकायत पर पंडरी पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

इसी तरह गुढियारी इलाके में भी एक व्यक्ति फोन पे के जरिए भुगतान करते हुए ठगी का शिकार हो गया। पुलिस के मुताबिक शशि कुमार सिंह फोन पे के जरिए किसी को ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर कर रहे थे, लेकिन वह किसी और को हो गया। इसकी जानकारी लेने के लिए उन्होंने गूगल से फोन पे का कस्टमर केयर नंबर निकाला। कस्टमर केयर के बताए अनुसार उसने अपनी जानकारी दी। इसके कुछ देर बाद उनके खाते से 41 हजार 870 रुपए का आहरण हो गया। इसकी शिकायत पर गुढिय़ारी पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned