scriptpani ke mol bechi lakdiya, kharidar ki nhi di panchayat ki rsid | शासकीय जमीन के बंदरबाट की लालच में टीला सरपंच ने कटवा डाले हरे-भरे सैकड़ों पेड़ | Patrika News

शासकीय जमीन के बंदरबाट की लालच में टीला सरपंच ने कटवा डाले हरे-भरे सैकड़ों पेड़

समीपस्थ ग्राम पंचायत टीला में सरपंच और सचिव की मिलीभगत से भ्रष्टाचार का नया खेल खेला जा रहा है। सरपंच-सचिव ने मिलीभगत कर पंचायत की बैठक में शासकीय भूमि के खसरा नं. 1283 रकबा 12.53 हे. में लगे हरे-भरे इमारती पेड़ों को सूखा पेड़ दर्शाकर कटवाने का प्रस्ताव पास करवा लिया। काटे गए पेड़ों में नीलगिरी व अन्य इमारती पेड़ों के अलावा शीशम के पेड़ भी मौजूद थे। जिसका बाजार भाव आज लगभग 5 हजार रुपए प्रति वर्गफुट है।

रायपुर

Published: April 01, 2022 04:47:23 pm

नवापारा राजिम। समीपस्थ ग्राम पंचायत टीला में सरपंच और सचिव की मिलीभगत से भ्रष्टाचार का नया खेल खेला जा रहा है। सरपंच-सचिव ने मिलीभगत कर पंचायत की बैठक में शासकीय भूमि के खसरा नं. 1283 रकबा 12.53 हे. में लगे हरे-भरे इमारती पेड़ों को सूखा पेड़ दर्शाकर कटवाने का प्रस्ताव पास करवा लिया। काटे गए पेड़ों में नीलगिरी व अन्य इमारती पेड़ों के अलावा शीशम के पेड़ भी मौजूद थे। जिसका बाजार भाव आज लगभग 5 हजार रुपए प्रति वर्गफुट है।
मिली जानकारी के अनुसार पंचायत में पेड़ काटने की स्वीकृति में सरपंच सहित उपसरपंच संतोष देवंागन, पंच रामप्रसाद निषाद, भूपेश पटेल, रोशन सेन, लोकेश पटेल, रामकृष्ण यादव, घनश्याम देवंागन, विमला साहू, डेरहीन देवंागन, इन्द्राणी, कौशिल्या पटेल, नूतन पटेल, मंजू बंजारे, हेमा बंजारे, कृष्णा देवंागन, दुलारी साहू के नाम हैं। मगर बैठक की कार्यवाही नकल में जिसका प्रस्ताव क्रमांक 5 तीन मार्च की बैठक में नामंाकित पंचों के हस्ताक्षर नहीं हैं। उसमें सिर्फ सरपंच व सचिव के हस्ताक्षर देखे गए हैं। अधिकांश पंचों को इस बैठक की जानकारी तक नहीं है।
विदित हो कि किसी भी पंचायत में पेड़ काटने के पूर्व पंचायत में प्रस्ताव पास कराकर ग्राम सभा में स्वीकृति लेकर तहसीलदार से अनुमति लेनी पड़ती है। मगर, इन्होंने औपचारिक प्रस्ताव पास कर व कोटवार से मुनादी करवाकर इतिश्री समझ ली। यह भी जानकारी मिली है कि सरपंच ने पेड़ काटने और बेचने की कोटवार व्दारा मुनादी करवाई थी। कितना पेड़ कटा, कितना बिका ,पंचायत में कितनी की रसीद काटी गई? इसकी जानकारी सरपंच व सचिव दोनों को नहीं है। जबकि जिन ग्रामवासियों ने लकड़ी खरीदी है उनका कहना है कि पैसा उन्होंने सरपंच को दिया है। यह भी जानकारी मिली है कि सरपंच और सचिव 12.58 हे. जमीन में लगे पेड़ों को कटवाकर उसे रफा-दफा कर भूमि को प्लेन कर उसका बंदरबाट करने वाले थे। मगर जागरूक ग्रामवासियों की वजह से ये वैसा करने से वंचित हो गए। ग्रामवासियों ने इसकी लिखित जानकारी 28 मार्च को अनुविभागीय अधिकारी अभनपुर, सक्षम अधिकारी वन विभाग और थाना प्रभारी गोबरा नवापारा को दी। मगर अब तक किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई है।
शासकीय जमीन के बंदरबाट की लालच में टीला सरपंच ने कटवा डाले हरे-भरे सैकड़ों पेड़
शासकीय जमीन के बंदरबाट की लालच में टीला सरपंच ने कटवा डाले हरे-भरे सैकड़ों पेड़
---
पटवारी जांच के लिए गए थे। प्रतिवेदन अभी आया नहीं है। प्रतिवेदन आने के बाद ही कुछ बता पाऊंगी।
- रीमा ठाकुर, तहसीलदार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

मंकीपॉक्स पर WHO की आपात बैठक में अहम खुलासा: यूरोप में अब तक 100 से अधिक मामलों की पुष्टि, जानिए 10 अपडेटJNU कैंपस में एमसीए की छात्रा से रेप, आरोपी छात्र गिरफ्तारकैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी, भारत में ठीक नहीं हालात, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा हैकर्नाटक में बड़ा हादसाः बारातियों से भरी गाड़ी पेड़ से टकराई, 7 की मौत, 10 जख्मीजल्द ही कमर्शियल फ्लाइट्स शुरू करेगा जेट एयरवेज, DGCA ने दी मंजूरीमाता वैष्णो देवी के प्रमुख पुजारी अमीर चंद का निधन, जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल सहित कई नेताओं ने जताया दुखज्ञानवापी मस्जिद केसः प्रोफेसर रतन लाल की गिरफ्तारी पर हंगामा, DU में छात्रों का प्रदर्शनफिर महंगी हुई CNG: राजस्थान में दाम सबसे अधिक, Diesel - CNG के दाम में अब मात्र 12 रुपए का अंतर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.