सीरत मैदान समेत मोहल्लों में परचम कुशाई, लहराया झंडा, रक्तदान किया

जश्ने ईदमिलादुन्नी सादगी और मानवसेवा के रूप में मनाया

By: VIKAS MISHRA

Published: 31 Oct 2020, 02:00 AM IST

रायपुर. इस्लाम धर्म के संस्थापक हजरत मोहम्मद पैगंबर का जन्मदिवस जश्ने ईदमिलादुन्नी सादगी और मानवसेवा के रूप में मनाया। मुस्लिम समाज ने परचम कुशाई की रस्में सीरत मैदान से लेकर सभी अपने-अपने मोहल्लों में संपन्न किए। वहीं मुस्लिम हॉल बैजनाथपारा में रक्तदान शिविर में सैकड़ों लोगों ने जरूरतमंदों के लिए रक्तदान किया। शहर सीरतुन्नबी कमेटी की ओर से सीरत मैदान में सुबह 9 बजे कार्यक्रम आयोजित किया। इस मौके पर कारी मोहम्मद इमरान अशरफी, इमाम व खतीब जामा मस्जिद बैरन बाजार ने परचम कुशाई की और हजरत मोहम्मद साहब के जीवन पर प्रकाश डाला। मौलाना मो. आकिब ने सलातो अलाम पेश किया। इसके बाद मौलाना मोहम्मद अली फरुकी ने देश-प्रदेश में अमन-चैन की दुआ कराया। इस अवसर पर अकबर अली फारुकी, शेख नाजिमुददीन, महापौर एजाज ढेबर, जावेद रजा, इरफान गुड्डू, शफीक अहमद फुग्गा, सबीहुद्दीन, मो. नईम, अकरम कुरैशी, डॉ. कासिम अली, अनवर फारुकी, नोमान अकरम, डॉ. एसए रहमान सहित अनेक लोग शामिल हुए। मंच संचालन मौलाना अबदुल रज्जाक ने किया।
जुलूस निकाला
इधर मोमिनपारा कमेटी ने जुलूस निकाल कर ईदमिलादुन्नबी का उत्सव मनाया। कोरोना संकट के बीच लोग उत्साह के साथ शामिल हुए, लेकिन मास्क लगाना भूल गए। जबकि अभी कोरोना का संकट टला नहीं है, सिर्फ कम हुआ है।

VIKAS MISHRA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned