निजी स्कूल की मनमानी फीस के विरोध में पालक पहुंचे DEO कार्यालय, बंद मिला ताला

राजधानी के पेंशनबाड़ा इलाके में संचालित निजी स्कूल की मनमानी बुलंदियों पर है। स्कूल प्रबंधन ने हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद नए शिक्षा सत्र के शुल्क में बढ़ोत्तरी कर दी है।

By: Ashish Gupta

Published: 02 Sep 2020, 09:47 PM IST

रायपुर. राजधानी के पेंशनबाड़ा इलाके में संचालित निजी स्कूल की मनमानी बुलंदियों पर है। स्कूल प्रबंधन ने हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद नए शिक्षा सत्र के शुल्क में बढ़ोत्तरी कर दी है। दूसरी ओर स्कूल प्रबंधन द्वारा उन पालकों पर भी फीस जमा करने का दबाव बनाया जा रहा है। जिनके फीस सालों पहले प्राचार्य ने माफ कर दी है।

स्कूल प्रबंधन पूर्व फीस और वर्तमान फीस जमा करने के लिए कह रहा है। पैसा नहीं जमा नहीं करने पर उनके बच्चों को ऑनलाइन क्लास से निकालने की धमकी दे रहा है। प्रबंधन की इस मनमानी से परेशान होकर पालकों ने मामले की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय पहुंचकर देने की कोशिश की। कार्यालय बंद मिला तो पालकों ने फोन पर विभागीय अधिकारियों से चर्चा की। विभागीय अधिकारियों ने कार्यालय खुलने के बाद मामलें में जांच का आश्वासन दिया है।

पूरी फीस मांग रहा प्रबंधन
पालकों ने पत्रिका संवाददाता से चर्चा के दौरान बताया कि स्कूल प्रबंधन पूरे सत्र की फीस मांग रहा है। कोर्ट के निर्देशानुसार ट्यूशन फीस जमा करने के लिए तैयार है, लेकिन प्रबंधन द्वारा ट्यूशन फीस स्पष्ट रूप से नहीं बताई जा रही है। पूर्व में भी बैरन बाजार स्थित इस निजी स्कूल की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में की जा चुकी है। हर बार विभागीय अधिकारी जांच का आश्वासन देते है, लेकिन प्रबंधन पर कोई भी कार्रवाई नहीं करते हैं।

जिला शिक्षा अधिकारी जीआर चंद्राकर ने बताया, अधीनस्थ अधिकारियों और आपके माध्यम से मामले की जानकारी मिल रही है। कार्यालय खुलने के बाद मामलें की जांच कराई जाएगी।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned