बाबा रामदेव की पतंजलि और रमन सरकार छत्तीसगढ़ में लगाएगी मेगा फूड पार्क, जल्द होगा एमओयू

छत्तीसगढ़ सरकार ने फूड पार्क लगाने की योजना बनाई है। सरकार बाबा रामदेव की पतंजलि कंपनी के साथ एक मेगा फूड पार्क लगाने के लिए करार करने जा रही है।

By: Ashish Gupta

Published: 11 Dec 2017, 01:51 PM IST

रायपुर .जब अजीत जोगी सत्ता में थे, तब उन्होंने प्रदेश में एक फूड पार्क स्थापित करने की घोषणा की थी, लेकिन विवादों में घिरी इस योजना को पलीता लग गया। अब छत्तीसगढ़ सरकार ने फूड पार्क लगाने की योजना बनाई है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पत्रकारों को बताया कि सरकार बाबा रामदेव की पतंजलि कंपनी के साथ एक मेगा फूड पार्क लगाने के लिए करार करने जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि करार कितने करोड़ रुपए का होगा, यह अभी साफ नहीं है। अभी यह देखना होगा कि बाबा कितनी बड़ी थैली लेकर छत्तीसगढ़ आते हैं।

सरकार के 14 साल पूरे होने के मौके पर सरकार और संगठन से जुड़े पदाधिकारियों की मौजूदगी में मुख्यमंत्री ने बताया, वर्ष 2018 में उनकी सरकार ने पूरे प्रदेश को खुले में शौच से मुक्ति दिलाने का लक्ष्य रखा है। इसके अलावा हर घर में बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। सरकार ग्रामीणों को पट्टा देगी और 36 लाख परिवारों को गैस कनेक्शन भी दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार बहुत जल्द ही 55 लाख लोगों को स्मार्टफोन का वितरण कर देगी। उन्होंने जानकारी दी कि जो फोन वितरित किया जाएगा, उसमें केंद्र और राज्य की सरकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी भी रहेगी।

जलस्तर का ध्यान
किसानों को रबी की फसल के लिए पानी देने की मनाही पर मुख्यमंत्री ने साफ किया कि सभी जिलों के कलक्टरों को जलस्तर को ध्यान में रखकर ही पानी देने को कहा गया है।

विपक्ष का प्रदर्शन शानदार
एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने विपक्ष के प्रदर्शन को बेहतर बताया। उन्होंने कहा कि विपक्ष 14 सालों से बेहतर प्रदर्शन कर रहा है और 2018 के चुनाव के बाद एक फिर विपक्ष को बेहतर प्रदर्शन ही करना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा, 14 साल की जो भी उपलब्धि है, वह अकेली उनकी नहीं है। उनकी इस उपलब्धि में टीम का योगदान है। मुख्यमंत्री ने कहा, फिलहाल उनकी सभी मंत्रियों से अच्छी ट्यूनिंग है।

ताकत में इजाफा
मुख्यमंत्री ने कहा, जब से राज्य का शेयर 32 फीसदी से बढ़कर 42 फीसदी हो गया है, तब से हम खुद को ताकतवर महसूस कर रहे हैं। हमें माइनिंग और आस्कर से भी फायदा मिला है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2003 का चुनाव भय और आतंक के खिलाफ लड़ा गया था, अब लोग यह मानते हैं कि प्रदेश में सुशासन कायम है। उन्होंने बताया कि सरकार का वित्तीय प्रबंधन बेहतर है। सरकार विकासमूलक कामों पर ही खर्च कर रही है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned