हिंसक प्रदर्शन, पुलिस को लात घूंसों से पीटने के बाद पुरूषों ने छोड़ा गांव, बचे 67 जेल में

बेरला के बारगांव में महिला से दुष्कर्म मामले को लेकर भड़के जनाक्रोश के दौरान पुलिस की पिटाई करने वाले 20 आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है

By: चंदू निर्मलकर

Published: 18 Aug 2017, 10:09 AM IST

बेमेतरा. बेरला ब्लॉक के बारगांव में महिला से दुष्कर्म मामले को लेकर बुधवार को भड़के जनाक्रोश के दौरान पुलिस की पिटाई करने वाले 20 आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है, इनमें जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष गुलजार खान समेत आठ आरोपी गुरुवार को न्यायालय में पेश किए गए।

पुलिस ने पूछताछ के लिए 67 लोगों को हिरासत में रखा है। हालांकि गुरुवार को बेरला में हालात नियंत्रण में रहे, लेकिन बारगांव में तनाव कायम रहा। गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल समेत अन्य नेता बेरला पहुंचे। उन्होंने इस घटना के आरोपियों की गिरफ्तारी और ग्रामीणों पर लाठीचार्ज की हाईकोर्र्ट के रिटायर्ड जस्टिस से न्यायिक जांच कराने की मांग की।

बेरला के हालात पर पुलिस के शीर्ष अधिकारी नजर रखे रहे। गुरुवार को भी बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। इसके अलावा एहतियात के तौर पर आसपास के थानों से अतिरिक्त बल वहां भेजा गया। इधर, भीड़ के गुस्से का शिकार बने पुलिसकर्मियों का इलाज जारी है, इनमें दो को गंभीर चोट आने की वजह से रायपुर में भर्ती किया गया है। इनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है।

 

Police Beaten

डर से गांव छोड़ गए पुरुष
इधर, बारगांव में बुधवार की घटना का जबरदस्त असर है। पुलिस मारपीट करने वाले ग्रामीणों की तलाश कर रही है। गांव के ज्यादातर पुरुष पुलिस के डर से गांव छोड़ गए हैं और घरों में सिर्फ महिलाएं हैं। महिलाएं खुलकर सामने तो नहीं आ रही हैं, लेकिन इनकी मानें तो शराब कोचियों और पुलिस की सांठगांठ के कारण वारदात हो रही हैं। पुलिस के इस रवैए लोगों में पहले से आक्रोश था। महिला को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म की घटना के बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा।

यह है पूरा मामला

गैंग रेप पीडि़ता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर बेरला में धरना-प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों की भीड़ ने अचानक उग्र रूप ले लिया और पुलिस पर पथराव कर दिया। पुलिस ने जावाबी कार्रवाई में लाठी चार्ज किया। लाठी चार्ज करते ही ग्रामीणों की भीड़ आक्रोशित हो गई और पुलिस पर हमला कर दिया। ग्रामीणों के हमले से पुलिस के एक दर्जन जवान चोटिल हो गए। इनमें से दो को गंभीर चोट लगी है जिसे रायपुर रेफर किया गया। समाचार के लिखे जाने तक बेरला में तनाव की स्थिति है मारा

चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned