कोरोना रोकने आसमान से लेकर तंग गलियों तक पुलिस, कलेक्टर-एसएसपी ने की ड्रोन से निगरानी

कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए पुलिस ने आसमान से लेकर शहर की तंग गलियों में जाकर निगरानी कर रही है। ड्रोन के जरिए शहर के प्रमुख हॉटस्पॉट वाले इलाकों में नजर रखी जा रही है,

By: Bhawna Chaudhary

Published: 24 Jul 2020, 08:27 AM IST

रायपुर . कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए पुलिस ने आसमान से लेकर शहर की तंग गलियों में जाकर निगरानी कर रही है। ड्रोन के जरिए शहर के प्रमुख हॉटस्पॉट वाले इलाकों में नजर रखी जा रही है, तो दूसरी ओर गलियों में जाकर पैदल पेट्रोलिंग भी कर रहे हैं। ड्रोन से लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों का पता लगाया जा रहा है, ताकि उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सके।

गुरुवार को पुलिस ने 176 लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज किया। दोपहर में कलेक्टर डॉक्टर एस भारतीदासन और एसएसपी अजय यादव आईटीएमएस के कमांड सेंटर पहुंचे और करीब दो घंटे तकशहर के घनी आबादी और हॉट स्पॉट वाले स्थानों की ड्रोन व आईटीएमएस के सीसीटीवी से मॉनिटरिंग की। खासकर के भाठागांव और मंगलबाजार के कंटेनमेंट एरिया की स्थिति की जानकारी लेते रहे। उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले में 28 जुलाई तक संपूर्ण लॉकडाउन है। इस दौरान आवश्यक कार्यों में ही छूट दी गई है। इसका पालन कराने के लिए रोज 1500 पुलिस अधिकारी- जवान ड्यूटी कर रहे हैं।

176 के खिलाफ अपराध दर्ज
लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर अब पुलिस ने सख्ती भी शुरू कर दी है। अलग-अलग थानों में आधा दर्जन लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। सिविल लाइन इलाके में लॉकडाउन के दौरान बिना काम के घूम रहे सत्यनारायण तिवारी, दीपक दुबे, अनिरूद्ध प्रताप के खिलाफ धारा 188, 34 के तहत अपराध दर्ज किया है। आजाद चौक इलाके में लॉकडाउन के दौरान मास्क नहीं लगाने वाले फरीद कुरैशी के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। इसी तरह रामसागरपारा में कंटेनमेंट जोन होने के बावजूद अनावश्यक घूम रहे मोहम्मद आमिर, रामसागरपारा से श्यामसुंदर चंद्राकर, अग्रसेन चौक के पास से रामकुमार वर्मा, दीपक ध्रुव और रवि तिर्की आदि सहित कुल 176 लोगों के खिलाफ लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन पर विभिन्न धाराओं के तहत अपराध दर्ज कर क विवेचना में लिया है।

कंटेनमेंट जोन में न बढ़े संक्रमण पुलिस उन इलाकों में ज्यादा फोकस कर
रही है, जिन इलाकों में कोरोना संक्रमण के मामले ज्यादा आ रहे हैं और कंटेनमेंट जोन अधिक है। भाटागांव, मंगल बाजार, पुरानी बस्ती और आजाद चौक इलाकों में इस लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जा रहा है। इन इलाकों में बेवजह भीड़ लगाने व आवाजाही करने से वालों को रोका जा सके। गघनी आबादी वाले बैजनाथपारा, कुंदरा पारा, पेंशनबाड़ा, उत्कल बस्ती में पुलिस वाहन नहीं पहुंच पाने के कारण 50 पुलिस अधिकारियों की टीम ने पैदल पेट्रोलिंग की।

एसएसपी की अपील
एसएसपी अजय यादव ने लॉकडाउन के दूसरे के बारे में कहा कि अधिकांश लोग लॉकडाउन के नियमों का पालन कर रहे हैं। अगर कुछ लोग अपना लापरवाहीपूर्ण रवैया छोड़ दें, तो काफी राहत मिल सकती है। खासकर गुटखा-खैनी खाने वालों से ज्यादा खतरा है। लोगों गुटखा या खैनी खाने से परहेज करना चाहिए। खाकर थूकने से संक्रमण बढ़ने का खतरा अधिक है।

भाठागांव में बैरिकेडिंग तोड़ने वालों की तलाश
भाठागांव कंटेनमेंट जोन में कुछ लोगों द्वारा बैरिकेडिंग तोड़ने की तस्वीर वीडियो में कैद हो गई है, उनकी पहचान की जा रही है। पुलिस ने बताया कि मीडिया में जो वीडियो बैरिकेडिंग तोड़ते हुए दिखाई जा रहा है, वह आज का नहीं है। पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को भाठागांव में बेवजह घूमने पर पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर की गई है।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned