scriptPolice left the vehicle filled with liquor, the MLA reached the police | शराब से भरे वाहन को पुलिस ने छोड़ा, विधायक पहुंच गए थाना | Patrika News

शराब से भरे वाहन को पुलिस ने छोड़ा, विधायक पहुंच गए थाना

डुप्लीकेट शराब खपाए जाने का मामला

रायपुर

Updated: July 18, 2021 06:47:50 pm

सिमगा. शुक्रवार को सिमगा के शासकीय देशी शराब दुकान में चार सौ पेटी शराब स्कैनिंग नहीं पाने के कारण भाजपा नेताओं ने इसे शासकीय भ_ी में डुप्लीकेट शराब खपाए जाने का मामला अब तूल पकड़ लिया है।
इस मामले पर विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार द्धारा लाभ लेने के लिए यह खेल खेला जा रहा है। इस मामले को पूरे प्रदेश में जोरशोर से उठाया जाएगा। तथा इसमें जिन लोगों की लिप्तता है उसे बेनकाब किया जाएगा। विधायक ने मामले की जानकारी को भाजपा संगठन देते हुए संगठन के पदाधिकारियों से चर्चा करने रायपुर के लिए रवाना हुए।
उल्लेखनीय है कि सैंकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं सहित नेशनल हाईवे रायपुर बिलासपुर में ढ़ाई घंटे तक चक्काजाम किए जाने के बाद जिला आबकारी अधिकारी आशीष कोसम मौके पर पहुंचे। जब माहौल गर्म होने लगा तब आबकारी अधिकारी ने उक्त वाहन में भरी शराब पेटियों को लोगों के समक्ष स्कैनिंग कराया, लेकिन स्कैनिंग नहीं हुआ तब आबकारी अधिकारी ने कार्यवाही करते हुए उक्त वाहन में भरे शराब को जब्त कर सिमगा थाने को सुपुर्द किया था। लेकिन देर शराब से भरी वाहन मेटाडोर को पुलिस ने छोड़ दिया।
सुबह जब इसकी जानकारी विधायक शिवरतन शर्मा को हुई तो उन्होंने थाना पहुंचकर एसडीओपी केबी द्विवेदी एवं टीआई नरेश चौहान से पूछा जिस पर टीआई ने बताया कि देर रात देसी शराब भट्टी के सुपरवाइजर राजू बंजारे थाना आकर जिला के सहायक आबकारी अधिकारी का पत्र दिखाया। जिसमें उन्होंने लिखा है कि मेरे द्धारा परमिट का जांच किया गया जो सही पाया गया। इसलिए इसे सिमगा के शासकीय शराब दुकान को वापस किया जाना उचित होगा।
शराब से भरे वाहन को पुलिस ने छोड़ा, विधायक पहुंच गए थाना
शराब से भरे वाहन को पुलिस ने छोड़ा, विधायक पहुंच गए थाना
रिपोर्ट नहीं लिखी थी, इसलिए छोड़ दी
टीआई चौहान ने विधायक शर्मा को बताया कि उक्त मामले कि एफ आईआर तो हुई नहीं थी और न ही पुलिस को आबकारी विभाग द्वारा लिखित में सुपुर्दगी का कोई कागज दिया था। वे केवल सुरक्षा की दृष्टि से थाना में वाहन खड़ा की थी। इसलिए हमने छोड़ दिया। मजेदार बात तो यह कि जब शराब से भरी उक्त मेटाडोर सिमगा भट्टी में पहुंची थी, तब वह तो वाहन चालक के पास कोई कागजात नहीं था। मगर रात्रि में सुपरवाइजर के पास उक्त शराब का परमिट कहा से आ गया। यह एक गंभीर प्रश्न है।
पंचनामा में भी लोचा
वहीं दूसरी ओर जिला आबकारी अधिकारी आषीष कोसम ने स्वयं सैकड़ों लोगों के सामने शराब पेटी का स्कैन करा कर पंचनामा में लिखा है कि स्कैन मशीन सही है फिर भी स्कैन नहीं हो रहा है। इसलिए आबकारी विभाग चार सौ पेटी शराब को कब्जे में लेकर पुलिस के सुपुर्दगी में दे रही है। यही नही दोनों अधिकारियों द्धारा किए गए पंचनामा मेल नही खा रहा है। जब्ती पत्रक में एक अधिकारी चार सौ पेटी बता रहा है तो दूसरा अधिकारी तीन सौ दस बता रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

Mizoram Earthquake: मिजोरम में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर रही 5.6 तीव्रताराष्ट्रीय युद्ध स्मारक में विलय की गई अमर जवान ज्योति की लौ; देखें VIDEO'हिजाब' पर कर्नाटक के शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल! जानिए क्या है पूरा मामलाक्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारIND vs SA: मायूस विराट कोहली के चेहरे पर आई खुशी, ऋषभ पंत का सिक्स देखकर करने लगे डांसतत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal Loanराजस्थान सरकार ने की किसान परिवार के हित की बात, जानें क्या है मामला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.