5 घंटे तक भटकने के बाद भी नहीं हुआ MRI, वायरल हुआ सिपाही और डॉक्टरों का झगड़ा

- पुलिस अधिकारियों और अस्पताल प्रबंधन के बीच बैठक हुई। डॉक्टरों की मांग पर सिपाही शत्रुघन के खिलाफ मौदहापारा थाने में पुलिस ने अपराध दर्ज किया।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 23 Feb 2021, 05:40 PM IST

रायपुर । एक सिपाही जेल के बंदी का एमआरआई (MRI) कराने आंबेडकर अस्पताल पहुंचा। सुबह से लेकर दोपहर तक बंदी का एमआरआई नहीं हुआ, तो उसने आपा खो दिया और मेडिकल स्टाफ से मारपीट और गाली-गलौज करते हुए जमकर हंगामा किया। इससे नाराज डॉक्टरों ने भी मोर्चा खोल दिया और अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था व आरोपी सिपाही के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए धरना शुरू कर दिया। बाद में डॉक्टरों और पुलिस अधिकारियों के बीच बैठक हुई। इसके बाद मामला शांत हुआ। पुलिस ने सिपाही के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पुलिस के मुताबिक दंतेवाड़ा में पदस्थ आरक्षक शत्रुघन उरांव सोमवार को एक बंदी का एमआरआई कराने सुबह करीब 9.30 बजे आंबेडकर अस्पताल गया था। दोपहर 2 बजे तक बंदी का एमआरआई नहीं हुआ। सिपाही जहां भी जाता था मेडिकल स्टाफ उन्हें दूसरे जगह भेज देता था। बार-बार इधर-उधर भटकने से वह परेशान हो गया और अपना आपा खो बैठा। जल्द एमआरआई करने को लेकर उसका रेडियोलॉजी विभाग के टेक्नीशियन से सिपाही का विवाद हो गया। नाराज सिपाही ने थप्पड़ जड़ दिया।

इसके बाद वह रेडियोलॉजी विभाग के एचओडी डॉक्टर बीपीएस नेताम के चैंबर में पहुंचा और एमआरआई नहीं करने पर खरी-खोटी सुनाने लगा। इसका डॉक्टर नेताम के अलावा डॉक्टर उज्जवल, डॉक्टर किशोर ने विरोध किया। इससे सिपाही और भड़क गया और डॉक्टरों का कॉलर पकड़कर मारपीट करने लगा।

इसकी सूचना अस्पताल अधीक्षक और पुलिस चौकी में दी गई। इसके बाद पुलिस पहुंच गई। घटना के विरोध में डॉक्टरों ने मोर्चा खोल दिया और आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करने लगे। कार्रवाई नहीं होने पर धरना देने लगे।

इसके बाद पुलिस अधिकारियों और अस्पताल प्रबंधन के बीच बैठक हुई। डॉक्टरों की मांग पर सिपाही शत्रुघन के खिलाफ मौदहापारा थाने में पुलिस ने अपराध दर्ज किया। इसके अलावा अस्पताल की पुलिस चौकी में पदस्थ दो सिपाहियों को हटा दिया गया और अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने की सहमति पर डॉक्टरों ने धरना खत्म किया।

यहां देखें वीडियो :

https://www.instagram.com/p/CLmFwWNhQqG/?igshid=1a8kfna834p9d

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned