छत्तीसगढ़ बना देश का सबसे स्वच्छ राज्य, राष्ट्रपति कोविंद के हाथों नगरीय प्रशासन मंत्री ने प्राप्त किया सम्मान

राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 की रैंकिंग के आधार पर छत्तीसगढ़ को देश का सबसे स्वच्छ राज्य का सम्मान हासिल हुआ है

By: Deepak Sahu

Published: 07 Mar 2019, 08:46 AM IST

रायपुर. स्वच्छता के मामले में छत्तीसगढ़ ने एक लंबी छलांग लगाई है। राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 की रैंकिंग के आधार पर छत्तीसगढ़ को देश का सबसे स्वच्छ राज्य का सम्मान हासिल हुआ है। यह सम्मान 4237 शहरों में हुई स्वच्छता रैंकिंग के आधार पर दिया गया है, जबकि झारखण्ड दूसरे और महाराष्ट्र तीसरे स्थान पर रहा है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन और विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया को यह पुरस्कार प्रदान किया। रैकिंग में 1 से 10 लाख की आबादी वाले शहरों में अम्बिकापुर शहर को देशभर में दूसरा और भिलाई नगर को 11वां स्थान मिला है। जबकि वर्ष 2018 की रैंकिंग में अंबिकापुर को 11वां और भिलाई को 71वां स्थान मिला था।

राष्ट्रपति ने कहा कि स्वच्छता प्रत्येक नागरिक के व्यवहार का अभिन्न अंग होना चाहिए, ताकि इसे कारगर और सतत बनाया जा सके। वहीं नगरीय प्रशासन और विकास मंत्री डॉ. डहरिया ने कहा पिछले सर्वेक्षण के मुकाबले इस बार हमने काफी बेहतर प्रदर्शन किया है और आगे भी इससे बेहतर करेंगे। इस अवसर पर भिलाई के महापौर व विधायक देवेन्द्र यादव, नगरीय प्रशासन विभाग की विशेष सचिव अलरमेलमंगई डी और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

एक लाख से कम आबादी वाले शहरों में नरहरपुर 20वें नंबर पर : 1 लाख से कम आबादी वाले शहरों में नरहपुर प्रदेश में सबसे पहले नम्बर पर और देश में 20वें नम्बर पर है। इसके अलावा विश्रामपुर को 21वीं, जशपुर को 39वीं, भिलाई-चरोदा को 40वीं, सहरसपुर लोहारा को 43वीं, बीजापुर को 48वीं, बलरामपुर को 52वीं, चिकखलाकसा को 53वीं, पाली को 57वीं, छुरा को 58वीं, सरायपाली को 60वीं, कुनकुरी को 68वीं, कवर्धा को 71वीं, छुर्रीकला को 76वीं, कांकेर को 79वीं, सीतापुर को 81वीं, मगरलोड को 89 वीं, झगराखंड को 93वीं व तिफरा को 96वीं रैकिंग प्राप्त हुई है।

कुंभ की व्यवस्थाओं की तारीफ : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रयागराज में में संपन्न हुए कुंभ मेले की तारीफ की और कहा कि लगभग 1,20,000 शौचालयों की व्यवस्था के साथ-साथ, कूड़ा-कचरा लगातार साफ करने के लिए जो कार्य किया गया है, उसे अनेक देशों में सराहा जा रहा है।

बिलासपुर और कोरबा पिछड़े : स्वच्छता की रैंकिंग में बिलासपुर और कोरबा पिछड़ गए हैं। वर्ष 2019 की रैंकिंग में बिलासपुर को 28वां और कोरबा को 67वां स्थान मिला है जबकि वर्ष 2018 में बिलासपुर की रैंकिंग 22 और कोरबा की 37 थी। दुर्ग, जगदलपुर, राजनांदगांव और रायगढ़ की रैंकिंग में सुधार हुआ है।

1 से 10 लाख की आबादी वाले प्रदेश केशहरों की राष्ट्रीय रैंकिंग
निकाय वर्तमान रैंकिंग पिछली रैंकिंग
अंबिकापुर - 02 - 11
भिलाई - 11 - 71
बिलासपुर - 28 - 22
जगदलपुर - 32 - 116
दुर्ग - 33 - 38
राजनांदगांव - 42 - 59
रायगढ़ - 43 - 54
कोरबा - 65 - 37
रायपुर - 41 - 139

रायपुर को स्वच्छता में सबसे तेजी से बढ़ते शहर का पुरस्कार
राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 रैंकिंग दो स्तर पर लागू की गई थी। इसमें 1 से 10 लाख और दूसरा 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों के लिए थी। रायपुर को 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में स्वच्छता में सबसे तेज बढ़ते शहर का पुरस्कार प्राप्त हुआ है। रायपुर को 41वीं रैंकिंग मिली है। जबकि 2018 में रायपुर पूरे देश में 139वें नम्बर पर था।

स्वच्छ सर्वेक्षण सर्वे 2019
- 4237 शहरों को सर्वे में किया गया शामिल
- 28 दिन में पूरा हुआ सर्वे
- 41 लाख सफाई बताने वाले फोटो पेश हुए
- 64 लाख से ज्यादा नागरिकों से ली प्रतिक्रिया
- 4.5 लाख प्रमाण शहरों ने केंद्र सरकार को सफाई के भेजे
- 04 करोड़ से ज्यादा राय सोशल मीडिया पर मिलीं

यहां से मिला फीडबैक
- 35.73 लाख ने वेब पोर्टल से
- 11.05 लाख लोगों से सीधे
- 6.71 लाख ने स्वच्छता ऐप
- 16.2 हजार कॉल करके जानी राय
- 20.8 हजार ने फोन करके बताया

शहरों को सात वर्गों में दिया गया पुरस्कार
- सबसे स्वच्छ शहर - इंदौर
- सबसे स्वच्छ राजधानी- भोपाल
- सबसे स्वच्छ मध्यम आबादी वाला शहर - उज्जैन (3-10 लाख)
- सबसे स्वच्छ बड़ा शहर- अहमदाबाद (10 लाख से ज्यादा)
- सबसे स्वच्छ छोटा शहर- एनडीएमसी दिल्ली (3 लाख से कम)
- सबसे स्वच्छ कैंटोनमेंट- दिल्ली कैंट
- सबसे स्वच्छ गंगा टाउन- गौचर, उत्तराखंड

सबसे ज्यादा साफ राज्य
1. छत्तीसगढ़
2. झारखंड
3. महाराष्ट्र
4. मध्यप्रदेश
5. गुजरात
6. आंध्रप्रदेश
7. पंजाब
8. तेलंगाना
9. हरियाणा
10. उत्तरप्रदेश

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned