निजी अस्पतालों को करना होगा संक्रमितों का इलाज

कोरोना संक्रमितों का स्वास्थ्य योजना से मुफ्त इलाज की तैयारी

कोरोना महामारी एक्ट 2020 के तहत भी इलाज करने से इनकार नहीं कर सकते है अस्पताल

बीते तीन दिनों में निजी अस्पतालों ने सामान्य और वेंटिलेटर सपोर्ट वाली मरीज को भेजा एम्स

By: lalit sahu

Published: 03 Jun 2020, 11:42 PM IST

रायपुर. प्रदेश के निजी अस्पतालों में इलाज के दौरान भर्ती हुए मरीज कोरोना संक्रमित पाए जा रहे हैं। रायपुर में बीते तीन दिन में चार मामले सामने आ चुके हैं। मगर, निजी अस्पतालों ने इन मरीजों को पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही एम्स रायपुर रेफर कर दिया। इनमें जगदलपुर की 19 वर्षीय युवती, धमतरी के 73 वर्षीय बुजुर्ग और भिलाई की 54 वर्षीय महिला है जिसकी 2 मई की रात मौत हो गई। तो क्या निजी अस्पताल कोरोना मरीजों का इलाज नहीं करेंगे? क्योंकि अब सरकार डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना में कोरोना बीमारी के पैकेज का निर्धारण करने जा रही है। संभव है कि 5-7 दिन में आदेश जारी हो जाए।

स्पष्ट है कि योजना के तहत अनुबंधित ऐसे अस्पताल जहां पर कोरोना बीमारी के इलाज की सुविधाएं मौजूद हैं, उन्हें इलाज करना होगा। वे मरीज को रेफर नहीं कर सकते। सरकार ही मरीजों का संपूर्ण इलाज के खर्च का भुगतान करेगी। पैकेज निर्धारित होने से अस्पताल अधिक चार्ज भी नहीं कर सकेंगे। उधर, बड़े अस्पतालों को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए 10 से 15 बिस्तर आरक्षित रखें। बता दें कि माना और एम्स में अभी 100-100 बिस्तर ही हैं, जो लगभग भरे हुए हैं। ऐसी स्थिति में निजी अस्पतालों को भी तैयार रहना होगा।

सीएम रैंकिंग में भूपेश देश में दूसरे नंबर पर, 81फीसदी जनता खुश

शंकराचार्य कॉलेज में भर्ती हो रहे मरीज
सरकार ने श्रीशंकाराचार्य मेडिकल कॉलेज भिलाई और क्रिश्चियन कॉलेज धमतरी को अधिग्रहित कर लिया है। श्रीशंकराचार्य कॉलेज में कोरोना मरीजों को भर्ती करवाया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक बढ़ती मरीजों की संख्या के मद्देनजर जल्द ही कुछ और निजी अस्पतालों को अधिग्रहित किया जा सकता है।

इंजीनियरिंग, मेडिकल व लॉ के छात्रों को नहीं मिलेगा जनरल प्रमोशन

स्वास्थ्य योजना में कोरोना बीमारी को शामिल करने को लेकर उच्च अधिकारियों से निर्देश मिले हैं। जल्द इससे संबंधित सूचना जारी की जाएगी। निजी अस्पतालों को भी इलाज करना होगा।
-डॉ. श्रीकांत राजिमवाले, राज्य नोडल अधिकारी, डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना

Show More
lalit sahu Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned