कोरोनाकाल में भी नहीं रुकी जमीन- मकान खरीदी बिक्री

- दो दिनों में तीन करोड़ चालिस लाख से ज्यादा की कमाई .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 24 Aug 2020, 01:00 AM IST

रायपुर। कोरोना काल में भी राजधानी में जमीन और मकान की रजिस्ट्री कराने की गति बढ़ती जा रही है। बुधवार को 1 करोड़ 12 लाख स्टाम्प के स्टांप के बिक्री हुई। 165 रजिस्ट्रियां हुईं जिसमें से 48 लाख रुपए पंजीयन शुल्क प्राप्त हुआ है। गुरुवार को दूसरे दिन 1 करोड़ 1३ लाख का स्टांप बिक्री और 63 लाख रुपए पंजीयन शुल्क प्राप्त हुआ। दिन भर में 168 रजिस्ट्रियां हुईं। अब भी यहां आने वालों को ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट दिखाना पड़ रहा है। रजिस्ट्री ऑफिस में शाम के 5 बजे तक रजिस्ट्री खुल रहे हैं। लॉकडाउन में ढील मिलने के बाद 4 मई से काम शुरू हुआ। रजिस्ट्री कराने आने वालों के लिए आरोग्य सेतु एप जरूरी कर दिया गया है। यानी मोबाइल में आरोग्य सेतु एप होने पर ही रजिस्ट्री कराने आने वालों को प्रवेश दिया जा रहा। इसके लिए ऑफिस के बाहर जांच भी की जा रही है।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य
कार्यालय में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा रहा है। इसके अलावा सैनिटाइजर से हाथ धुलवाने व आरोग्य सेतु एप की चेकिंग करने के लिए एक कर्मचारी को गेट के पास काउंटर बनाकर रखा गया है। यहां से होकर लोग अंदर प्रवेश कर रहे हैं। यहां से ७०0 से अधिक लोगों को आरोग्य सेतु एप डाउन कराया जा चुका है।

ऑनलाइन बुकिंग
पक्षकार वेब पोर्टल छत्तीसगढ़ की ई-पंजीयन साइट व मोबाइल एप से रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन बुकिंग कर रहे हैं। इसकी स्लिप की प्रिंटआउट लाने पर भी संबंधित सभी पक्षकार को रजिस्ट्री के लिए कार्यालय में आना पड़ता है। यदि तय तारीख को नहीं आता है तो फिर से बुकिंग करनी पड़ती है। उप पंजीयक कार्यालय में रोज ३8 लोगों की रजिस्ट्री के लिए समय दिया जा रहा है। रायपुर चार उप पंजीयक कार्यालय हैं।

कार्यालय में सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। लोग सुरक्षा के मापदंडों के साथ रजिस्ट्री कराने पहुंच रहें हैं।
आरएल साहू, उप पंजीयक, रायपुर

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned