बारिश-ओलावृष्टि से रबी फसल बर्बाद, किसानों ने मांगा मुआवजा

तहसीलदार ने जांच प्रतिवेदन बनाने के पटवारी को दिए निर्देश

 

By: dharmendra ghidode

Published: 11 May 2021, 06:03 PM IST

छुईहा-बेलर. रविवार रात आंधी के साथ हुई बारिश व ओलावृष्टि से छुईहा, बेलर, चरौदा, चरभ_ी, देवगांव, सेंदर, बारुला, सिर्री, बिजली क्षेत्र के सैकड़ों एकड़ धान की फसल को भारी क्षति पहुंची है। प्रभावित किसानों ने प्रशासन से मुआवजा की मांग की है। वहीं, तहसीदार ने पटवारी को जांच प्रतिवेदन देने के निर्देश दिया है।
रविवार को दिन में बूंदाबांदी के बाद रातभर बारिश के साथ तेज हवाएं चलती रहीं। कहीं-कहीं ओले भी पड़े। इसके चलते रबी सीजन की मुख्य फसल धान के साथ-साथ बाड़ी में लगे सब्जी फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। पहले से ही पानी की कमी, गर्मी की विभीषिका झेल रहे किसानों को बेमौसम बारिश ने पूरी तरह तबाहीकी कगार पर ला दिया है।
ग्राम चरभ_ी निवासी किसान झामसिंह साहू, नाथू राम साहू, विष्णु साहू सीता राम साहू, खेलावन, हेमनारायण, जावक राम, ओमकार, गुलाप साहू, दखराम, टीकू सारधा, उमा संकर साहू, तामेश्वर, छन्नू, थानेश्वर, चंद्रिका, खोमण, भेषमनी, टीकम, लिखेंद्र, काशीराम, मन्नू यादराम, शंभूराम, जगदीश कहते हैं कि किसान सोच नहीं पा रहे हैं कि अब भरण पोषण कैसे होगा। बारिश व तेज हवा के चलते खेतों में धान की फसल गिर कर नष्ट हो गई है। आसमान से गिरी बर्फ ने धान की बाली दाना गिर जाने से रही सही कसर पूरी कर दी। खरीफ सीजन में भी प्रतिकूल मौसम के चलते किसानों को काफी नुकसान हुआ। उसके चलते धान की उपज कम हुई, साथ ही उसे बेचने में भी परेशानी हूई है।
अब रबी सीजन में हुई बारिश ने किसानों की धान की खेती को भी नष्ट कर दिया है। ग्राम सेंदर निवासी रामाधार साहू, बिजली निवासी नंदु यादव, रेवा साहू, रुमन यदु चरौदा पुरुषोत्तम सिन्हा, अनिल सिन्हा, सिर्री निवासी टिकेश साहू, बारुला से भी दुखु राम साहू, सुकदेव साहू ने कहा कि वर्षों में इतनी तबाही पहले कभी नहीं हुई थी। उन्होंने कहा कि किसानों को हुए भारी नुकसान के बारे में उन्होंने आपदा घोषित कर शासन से राजस्व विभाग से सर्वे कराकर मुआवजा प्रकरण बना कर राहत देने की मांग की है। वहीं, राजस्व विभाग ने पटवारी के माध्यम से सर्वे कराकर जांच प्रतिवेदन तहसील कार्यालय फिंगेश्वर को देने निर्देश किया है।
पटवारी मुआयना कर जांच प्रतिवेदन करेगा। फिर विवेचना उपरांत नियमानुसार कार्यवाही होगी।
घनश्याम जंघेल , तहसीलदार, फिंगेश्वर

dharmendra ghidode
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned