scriptrahul ke mahtari khis- thi hmar bhagwan as, yeha bdka aasirwad ye | कोनो रूप म आ सकत हे भगवान ह | Patrika News

कोनो रूप म आ सकत हे भगवान ह

छत्तीसगढ़ म ऐेकर पहिली अइसन घटना नइ होय रिहिस। हरियानाभर म एकझन लइका ल बोरवेल के गड्ढा से पचास घंटा म जीयत निकाले गे रिहिस। देस के कई परदेस म अइसन घटना घटथेे, फेर बोरवेल म गिरे लइकामन ल जादातर नइ बचाय जा सकय। फेर, 105 घंटा के सरलग कोसिस करके छत्तीसगढ़ सरकार ह बड़े काम करके देखा दिस।

रायपुर

Published: June 20, 2022 04:38:25 pm

जांजगीर-चांपा जिला के गांव पिहरीद के बोरवेल के गड्ढा म दस बछर के लइका राहुल साहू ल 105 घंटा रेसक्यू चला के बचा ले गिस। राहुल के दाई गीता साहू ह मुख्यमंतरी भूपेस बघेल ल किहिस ‘तहीं हमर भगवान अस।’
सेना के जानकार अधिकारी, जिला साहेब अउ सब बिसेस गियान रखइयामन के दल ह सरलग काम करिस। अतेक बड़ काम तभे सफल होथे, जब मुखिया ह संकलप लेथे के चाहे जइसे भी हो संकट से उबारना हे। ऐहा मुख्यमंतरी भूपेस बघेल के बड़े सफलता अउ सेवा के कारज ए। कतकोन किसम के काम-काज सरकार के चलथे। वोकर बर बड़ई घलो करे जाथे, फेर ए जउन राहुल साहू ल बचा के इतिहास बना ले गिस, वोहा देस अउ दुनिया ल जगजग ले दिखिस। इही ह असल बिकास के मूलमंत्र ए।
‘दुब्बर बड़ दू असाड़’ कहावत के सुरता सब ल अइस, जब सब जानिन के राहुल साहू ह न बोल सकय, न सुन सकय। सधारन गड्ढा म गिर जतिस तभो राहुल ह गोहराय-चिचयाय नइ सकतिस। जउन ह गोहराथे तेकर कोनो न कोनो सुन लेथे, नइ गोहराय सकय तेकर ल सुने बर भूपेस बघेल जइसन कान वाला मनखे चाही। छत्तीसगढ़ म काया खंडी गीत गाए जाथे। ‘जाए के बेरा संगी काला गोहराबे।’ ऐकर जतका बड़ई करे जाय कमती हे कि पूरा ताकत लगा के सरकार के मुखिया अउ अधिकारीमन एक नवा चलन छत्तीसगढ़ म चलइन। जुर-मिल के जान ल बचइन।
जांजगीर के जवनहा छत्तीसगढिय़ा जिला साहेब जितेन्द्र सुक्ला के अघुवई म एस.पी. विजय अग्रवाल संग चारझन आई.ए.एस. अधिकारी, दूझन डिप्टी कलेक्टर, एकझन एडीसननल एस.पी., पांचझन तहसीलदार, चार डी.एस.पी., आठ इंस्पेक्टर, समेत रायगढ़, दुरूग, बिलासपुर के बचाव दल लगे रिहिस। 120 झन जवान, 32 ए.डी.आर.एफ,, 15 एस.डी.आर.एफ अउ सेना के जवान लगे रिहिस।
सबोझन दिन-रात एक कर दिन। लगभग 500 अधिकारी-करमचारी के फौज मौजूद रिहिस। जनसंपरक बिभाग ह लोगन ल छिन-छिन के सूचना देवत रिहिस। छत्तीसगढ़ ह सांस रोक के बचाव के खबर ल सुनत-गुनत दिन बितइस। भूपेस बघेल ल अचानक दिल्ली जाय बर पर गे। उहां ले आतेसाठ राहुल ल देखे बर अपोलो अस्पताल गिस। तब राहुल के महतारी ह रोवत किहिस - तहीं हमर भगवान अस। ऐहा बडक़ा आसीरवाद ए।
भूपेस बघेल ह लइका के पढ़ई के खरचा सरकार ह दिही कहिके हिम्मत दिस। कान के मसीन लगवा के, स्पीच थेरेपी से राहुल ल पढ़ाय जाही इही बात ल भूपेस बघेल किहिस । छत्तीसगढ़ म ऐेकर पहिली अइसन घटना नइ होय रिहिस। हरियानाभर म एकझन लइका ल बोरवेल के गड्ढा से पचास घंटा म जीयत निकाले गे रिहिस । देस के कई परदेस म अइसन घटना घटथेे, फेर बोरवेल म गिरे लइकामन ल जादातर नइ बचाय जा सकय। 105 घंटा के सरलग कोसिस करके सरकार ह बड़े काम करके देखा दिस।
ऐमा राहुल जइसे लइका के जीवटपना, हिम्मत ल घलो सब संहारवत हें। पानी म गोड़मन बुड़े रिहिस । चमड़ा अउ लहू म इन्फेक्सन हो जेथे अइसन म। बाहिर दुनिया म खुल्ला हवा म सांस लेवइयामन गड्ढा म गिरे राहुल के दसा ल सोच के दहसत अउ संसों म परे रिहिन। जनइयामन जानथे कि गड्ढा म परे राहुल के दुख म भूपेस ल नींद नइ अइस होही । भूपेस बघेल अपन काम अउ नवा-नवा जमीनी योजना के सेती चरचा म रहिथे। अभी परयावरन उपर महासम्मेलन बिदेस म हे । गोबर के महत्तम, वोकर खरीदी ऊपर बोले बर भूपेस बघेल ल बलाय गे हे।
माटी म सोना ऊपजाबो।
चल संगी जुर-मिल कमाबो।
लछिमन ह लिखे हे। माटी म सोना पैदा करे के मंतर सबे नइ साध पावंय। भूपेस ह गवइंहा मनखे ए। किसान के बेटा ए। वोला ए मंतर सिद्ध हे। मंझनिया दू बजे राहुल बोरवेल म गिरिस तब ले महतारी कलपत रिहिस। पंथी गीत के बात सुरता आथे।
मोरा हीरा गंवागे बन कचरन म।
मूड़ पटक-पटक रो ले पथरन म।
मूड़ पटक-पटक के रोवत महतारी ल भूपेस ह हांसे के अवसर लान दिस। हमर सबके माथा ऊंच कर दिस। तभे वोकर बर असीस निकलिस ‘तहीं हमर भगवान अस।’ दूसर बड़े काम सरकारी इस्कूल ल चाक-चौबद करे के जउन काम होय हे वोहा अवइया समे म अपन गुन बताही। राजनांदगांव से लेके आदिवासी छेत्र के जिलामन म नवा -नवा चकाचक चमकत स्कूल खुले हे। बहुत पइसा भर के निजी स्कूल म पढ़इया लइकामन ल जउन सुविधा मिलथे वो सुविधा सरकारी स्कूल म दे जात हे। 260 स्कूल आदिवासी छेत्र म खुल गे जउन ह बंद रिहिन । लोक गीत हे
मोर बर स्कूल खोलवा दे महराज।
मोरो मन पढ़े-लिखे के होथे।
अंधियार ले मोला निकाल दे महराज
मोरो मन आगू बढ़े के होथे।
मोला रद्दा देखा दे महराज
मोरो मन ह अगास छुवे के होथे।
इही पढ़ंता लइकामन हमर पुरखा डॉ. खूबचंद बघेल, सुन्दरलाल सरमा, मिनी माता, बैरिस्टर छेदीलाल ठाकुर, प्यारे लाल सिंह, पवन दीवान के सपना ल पूरा करहीं। छत्तीसगढ़ अउ देस के भाग जगाहीं।
कोनो रूप म आ सकत हे भगवान ह
कोनो रूप म आ सकत हे भगवान ह

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबPM Modi in Germany for G7 Summit LIVE Updates: 'गरीब देश पर्यावरण को अधिक नुकसान पहुंचाते हैं, ये गलत धारणा है' : G-7 शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदीयूक्रेन में भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर पर रूस ने दागी मिसाइल, 2 की मौत, 20 घायल"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसैनिकों से बोले आदित्य ठाकरे- हम दिल्ली में भी सत्ता में आएंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.