मोदी की निगरानी में छत्तीसगढ़ में हो रही आयकर विभाग की छापेमारी

सचिवालय में उप सचिव सौम्या चौरसिया का घर सील

भिलाई स्थित सौम्या के घर पर 26 घंटे डेरा डाले रही आईटी टीम

By: ramendra singh

Published: 01 Mar 2020, 12:15 AM IST

रायपुर . आयकर विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मौजूदा छापेमारी मे आयकर विभाग के साथ साथ केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड, राजस्व आसूचना महानिदेशालय और वित्त मंत्रालय के आधा दर्जन अधिकारी भी रायपुर मे कैंप कर रहे हैं। यह अधिकारी कहां हैं, किसी को भी इसकी जानकारी नहीं है। जानकारी यह भी मिली है कि सीबीडीटी के अध्यक्ष पीसी मोदी ने इस पूरे आपरेशन की कमान अपने हाथों मे ले रखी है। हर 15 मिनट में कार्रवाई की रिपोर्ट गाजियाबाद के वैशाली स्थित आयकर भवन के कंट्रोल रूम को भेजी जा रही है। अधिकारियों तक को नहीं पता है कि अगला छापा कहां मारना है। कंट्रोलरूम को लाइव दिखाकर सील किया सौम्या का घरप्रदेश में आयकर विभाग की कार्रवाई लगातार तीसरे दिन भी जारी रही। बरामदे में 26 घंटे से डेरा डाल कर बैठे अफसरों ने मुख्यमंत्री की उप सचिव सौम्या चौरसिया के भिलाई स्थित घर को सील कर दिया है। इस कार्रवाई को गाजियाबाद के कंट्रोलरूम में बैठे अफसरों को कैमरे के जरिए लाइव दिखाया गया। इसकी वीडियोग्राफी भी हुई। इन कार्रवाइयों से राज्य सरकार असहज है। मुख्यमंत्री निवास में शाम को होने वाली बैठक स्थगित कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली रवाना हुए। हालांकि वे दिल्ली पहुंच नहीं पाए। मौसम की खराबी की वजह से उनका विमान दिल्ली में नहीं उतर सका। उसे जयपुर डाइवर्ट किया गया। देर शाम बताया गया कि मुख्यमंत्री रायपुर वापस लौट रहे हैं। दोपहर में प्रदेश कांग्रेस ने रायपुर में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान आयकर विभाग के सिविल लाइंस स्थित दफ्तर के बाहर प्रदर्शन और नारेबाजी हुई। कांग्रेस इस मामले में कानूनी सलाह भी ले रही है।

15 ठिकानों पर सिमटी जांच, नए ठिकानों तक पहुंची आंच
आयकर विभाग की कार्रवाई लगातार तीसरे दिन भी जारी रही। हालांकि छापे की कार्रवाई जिन 32 ठिकानों पर की जा रही थी, उसमें से 17 ठिकानों में जांच का काम पूरा हो गया है। 15 ठिकानों पर आयकर अधिकारी अभी भी जमे हुए हैं। मुख्यमंत्री की उप सचिव सौम्या चौरसिया भूमिगत हैं। उनके भिलाई स्थित घर पर शुक्रवार दोपहर बाद से जमें अफसरों ने शनिवार शाम पंचनामा बनाकर मकान के दरवाजे-खिड़कियों को सील कर दिया। इस कार्रवाई की वीडियोग्राफी भी की गई। आयकर अधिकारियों की तमाम कोशिशों के बावजूद सौम्या के परिवार का कोई सदस्य वहां नहीं पहुंचा था। इस बीच जांच की आंच नए लोगोंं तक पहुंची है। आयकर अधिकारी दोपहर में रायपुर नगर निगम के पूर्व पार्षद और महापौर एजाज ढेबर के करीबी अफरोज अंजुम के घर पहुंचे। वहां दो घंटे तक अंजुम से पूछताछ करते रहे। शराब ठेकेदार संजय दीवान के शंकर नगर स्थित घर और कार्यालय व सेलटैक्स कॉलोनी में शराब दुकानों में कर्मचारियों की आपूर्ति करने वाले ठेकेदार सिद्धार्थ सिंघानिया के कार्यालय में कार्रवाई हुई। बताया जा रहा है कि इन दोनों के यहां 27 फरवरी से ही कार्रवाई हो रही है, लेकिन विभाग ने इसे पूरी तरह छिपा कर रखा था।

यहां-यहां हुई कार्रवाई
एजाज ढेबर - मोदहापारा में प्रतिष्ठान, शंकर नगर और नलघर चौक स्थित रेस्टोरेंट, फाफाडीह स्थित हॉटल, बैरन बाजार का घर और भनपुरी में यार्ड। इन ठिकानों से आयकर अधिकारी लौट गए हैं।

विवेक ढांढ़ - सिविल लाइंस स्थित आवास पर कार्रवाई जारी।
मीनाक्षी टुटेजा - देवेंद्र नगर में कार्रवाई पूरी, कटोरा तालाब स्थित ब्यूटी पार्लर और घर में कार्रवाई जारी।

डॉ. एक फरिश्ता - कटोरा तालाब स्थित घर और अस्पताल में कार्रवाई।
अमोलक भाटिया - रायपुर में कटोरा तालाब स्थित घर में कार्रवाई जारी। बिलासपुर के 6 में से 5 ठिकानों में जांच पूरी।

एपी त्रिपाठी - भिलाई स्थित घर में कार्रवाई पूरी हो चुकी है।
संजय संचेती - साईं नगर और देवेंद्र नगर के घर-दफ्तर में कार्रवाई जारी।

कमलेश जैन - सदर बाजार के दफ्तर और पंचशील नगर स्थित घर में कार्रवाई जारी है।
गुरुचरण होरा - राजेंद्र नगर दफ्तर, वीआईपी रोड और स्टेशन रोड के हॉटल, देवेंद्र नगर स्थित घर पर कार्रवाई जारी है।

अजय साधवानी - सभी ठिकानों से जांच पूरी कर टीम लौटी।

कांग्रेस ने घेरा आयकर का दफ्तर, प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी
छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने शनिवार को रायपुर में आयकर विभाग के दफ्तर का घेराव कर दिया। दोपहर 12 बजे से गांधी मैदान में कांग्रेस ने सभा की। इसमें केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बदले की कार्रवाई के तहत आयकर के छापे डलवाने का आरोप लगाया। प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा, यह कार्रवाई राज्य सरकार को डराने के लिए की जा रही है। बाद में कांग्रेस के कार्यकर्ता और पदाधिकारी जुलूस की शक्ल में आयकर विभाग के सिविल लाइन स्थित कार्यालय की ओर बढ़े। आकाशवाणी चौक के पास पुलिस ने बेरीकेड लगाकर रास्ता रोक दिया था। थोड़ी देर तक धक्कामुक्की के बाद प्रदर्शनकारियों ने बेरिकोड तोड़ दिया। कार्यकर्ता दौड़ते हुए आयकर विभाग के कार्यालय के बाहर पहुंच गए। यहां काफी देर तक केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने मोदी को तानाशाह बताया। कांग्रेस ने अपर कलेक्टर को राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम, प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन, विधायक धनेंद्र साहू, विकास उपाध्याय सहित दर्जन भर विधायक, पदाधिकारी सहित हजारो कार्यकर्ता शामिल हुए।

सुधांशु बोले-सरकार की स्थिरता क्या इनकम से जुड़ी है
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने आयकर छापों को सरकार की राजनीतिक स्थिरता के खिलाफ साजिश बताने पर सवाल उठाए। त्रिवेदी ने कहा, क्या सरकार की राजनीतिक स्थिरता, इनकम से जुड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार के सभी विभाग अपनी क्षमता और स्वतंत्रता से काम कर रहे हैं। संवैधानिक व्यवस्था में प्रावधान हैं, किसी के साथ अन्याय नहीं होगा।

ramendra singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned