प्रदेश में शीतलहर का कहर, अभी 10 दिन और ठंड से नहीं मिलेगी राहत

प्रदेश में शीतलहर का कहर, अभी 10 दिन और ठंड से नहीं मिलेगी राहत
winter

Chandu Nirmalkar | Updated: 15 Jan 2017, 10:50:00 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

प्रदेश के न्यूनतम तापमान में गिरावट के साथ ही राजधानी का न्यूनतम पारा सामान्य से तीन डिग्री नीचे चला गया

रायपुर. अभी 10 दिन राजधानी समेत प्रदेश के लोगों को ठंड से राहत नहीं मिल पाएगी। शिमला में हुए हिमपात से प्रदेश में शीतलहर कहर जारी रहेगा। प्रदेश के न्यूनतम तापमान में गिरावट के साथ ही राजधानी का न्यूनतम पारा सामान्य से तीन डिग्री नीचे चला गया। शहर के आऊटर इलाकों में भी रविवार सीजन का सबसे ठंड दिन रहा। राजधानी में न्यूनतम तापमान 10.7 डिग्री दर्ज किया गया है।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सरगुजा सहित प्रदेश के सभी जिलों में तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। मैनपाट में 5 डिग्री तापमान रहा। सहायक मौसम वैज्ञानिक गोपाल राव ने बताया कि मौसम विभाग ने नए सिरे से पश्चिमी विक्षोभ की वजह से मध्य और ऊंचाई वाले पहाड़ी क्षेत्रों में सोमवार को कुछ स्थानों पर भारी बारिश या बर्फबारी की चेतावनी दी है। आसमानी से ओस बूंदों से पाला पड़ रहा है। लगभग 5 दिनों से प्रदेश में ठंड की स्थिति ज्यादा होने से रबी सीजन के किसानों का फसल की देखभाल करने की चेतावनी जारी की गई है।

पहाड़ी इलाकों में बढ़ी ठंड

वहीं मौसम के मिजाज से प्रदेश के वायु, ट्रेन व बस मार्गों में आवाजाही भी प्रभावित हो रही है। सरगुजा के काफी ऊंचाई वाले आदिवासी क्षेत्रों और अन्य पाट इलाकों में शीतलहर के कारण लोग ठंड से ठिठुर रहे हैं। इन स्थानों पर पारा एक डिग्री के आसपास दर्ज किया गया है। सरगुजा में रविवार को सबसे कम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किए गए हैं। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो आम तौर पर शुष्क हवा छत्तीसगढ़ से अधिक प्रबल बनी हुई है। सबसे कम अंबिकापुर में दर्ज किया गया है।

बदल सकता है मौसम का मिजाज

मौसम विभाग के अनुसार आगामी 48 घंटे में मौसम का मिजाज बदलने लगेगा। पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से उत्तरी हवाओं की दिशा बदल जाएगी। इसके बाद कड़ाके की ठंड कम पड़ेगी। मौसम साफ होने पर तापमान 13 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम दर्ज में वृद्वि होने की संभावना है। प्रदेश में बिलासपुर 9.6, पेंड्रारोड 5.8, जगदलपुर 7.4, दुर्ग 8.6 व राजनांदगांव 10.4 का न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया है। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि पिछले दस सालों में राजधानी का तापमान 2011 में 7.4 डिग्री तक लुढ़क चुका है। हालत इसी तरह रहें तो इस सप्ताह में तापमान 3 से 4 डिग्री और कम हो सकते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned